एसपी की सक्रियता के चलते अवैध हथियारों का जखीरा पकड़ा, एक बंदूक, 9 देशी कट्टे जप्त, एक आरोपी गिरफ्तार

भिण्ड पुलिस अधीक्षक शैलेन्द्र सिंह चौहान एवं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक कमलेश कुमार खरपुसे के निर्देशन में नववर्ष के आगमन पर सुरक्षा व्यवस्था को देखते हुये अवैध हथियारों एवं गुडा बदमाशो की धरपकड हेतु समस्त राजपत्रित अधिकारी एवं थाना प्रभारी को मुखबिर तन्त्र विकसित करने के लिये निर्देर्शित किया गया था। इसी तारतम्य मे अनुविभागीय अधिकारी अटेर  सुरेन्द्र सिंह तोमर के मार्गदर्शन में थाना प्रभारी पावई सुधाकर सिंह तोमर एवं सायवर सेल प्रभारी शिव प्रताप सिंह राजावत के द्वारा थाना क्षेत्र धाना पावई के अन्तर्गत दिनांक 01.01.2022 को मुखविर द्वारा सूचना प्राप्त हुयी कि कुआरी नदी के पास ग्राम मल्लपुरा मोड के पास हथियारों की डीलिंग होने वाली है उक्त सूचना पर से थाना प्रभारी पावई एवं सायवर सेल प्रभारी रवाना हुये बाद मुखबिर के बताये स्थान कुआरी नदी के पास ग्राम मल्लपुरा मोड के पास पहुॅचे पुलिस वाहन को दूर रखकर छिपकर खड़े हो गये लगभग कुछ देर बाद एक लम्बा सा व्यक्ति कपड़े में लपेटे हुये बदूक तथा एक बैग लिये दिखाई दिया जो मोड पर आकर किसी का इन्तजार करने लगा उक्त व्यक्ति को पुलिस टीम ने चारो तरफ से घेराबन्दी कर पकड़ लिया गया तथा हाथ में लिये हुये कपडे में लिपटी हुई बन्दूक तथा बैग को कब्जे में लिया तथा कपडे में लिपटी हुयी बन्दूक को खोलकर देखा तो 12 बोर दुनाली काले रंग की बन्दूक (फैक्ट्रीमेड) तथा कवर वट मे 12 बोर के 4 जिन्दा राउण्ड लगे हुये थे तथा हाथ में लिये हुये थैले को खोल कर देखा तो उस थैले में 315 बोर की 9 देशी कटटे तथा 10 जिन्दा राउण्ड 315 बोर के मिले जिस पर से आरोपी के विरुद्ध थाना पावई में अपराध कमाक 01/22 धारा 25 ( 1 ) ए.5 25 (1-बी) ए.3.26 आर्म्स एक्ट कायम कर विवेचना में लिया गया है। उक्त आरोपी डकैत राजनारायण गैंग का सक्रिय सदस्य रहा है तथा भिण्ड जिले के विभिन्न थानो में आरोपी के विरुद्ध 09 अपराध पंजीबद्ध है तथा आरोपी हत्या के अपराध में आजीवन कारावास की सजा काटकर वर्ष 2016 में वापस आया है तथा उसके बाद से हथियार तस्करी में लिप्त है।
इनकी रही सराहनीय भूमिका
उक्त उल्लेखनीय कार्य में थाना प्रभारी पावई उ०नि० सुधाकर तोमर, सायबर सेल प्रभारी उ0नि0 शिवप्रताप सिंह राजावत, स०उ०नि० सत्यवीर सिंह, प्रआर0 982 प्रमोद पराशर, प्रआर० 566 महेश कुमार, प्रआर०, 315 सतेन्द्र यादव आर 281 आनन्द दीक्षित, आर0 637 राहुल यादव, आर0 1096 अनिल तोमर, आर0 11 अजय सिकरवार, आर0 1001 पुष्पैन्द शर्मा, आर0 864 विवेकानन्द शर्मा की महत्वपूर्ण भूमिका रही है।