प्रकृति का संतुलन बनाए रखने के लिए ज्यादा से ज्यादा वृक्षारोपण किया जाए- श्री परमार

भिण्ड.ShahikantGoyal/ @www.rubarunews.com>> वसुंधरा श्रृंगार युवा मंडल के तत्वाधान में ग्राम भटमासपुरा में नर्वदेश्वर महादेव मंदिर पर स्थित छठवीं नक्षत्र वाटिका में श्रमदान कर वृक्षारोपण किया गया। कार्यक्रम में उपस्थित भारत विकास परिषद के कोषाध्यक्ष एवं स्प्ब् मुख्य बीमा सलाहकार श्री रामवीर परमार ने कहा कि मानव जन्म की पहली सांस जो लेता है वह हमें पेड़ों से ही प्राप्त होती है और अंतिम समय तक हम पेड़ों से प्राप्त संसाधनो का ही उपयोग करते हैं तो हम मानव का दायित्व पर्यावरण और प्रकृति का संरक्षण करना का भी होना चाहिए एवं प्रत्येक व्यक्ति को अपने जीवन में ज्यादा से ज्यादा वृक्षारोपण करना चाहिए जिससे प्रकृति का संतुलन बना रहे।

वसुंधरा श्रंगार युवा मंडल के नक्षत्र वाटिका प्रभारी धर्मवीर यादव ने कहा कि  हमारे संगठन का क्षेत्र में 108 नक्षत्र वाटिकाओं का जो संकल्प है।

 

पर्यावरण एवं आध्यात्मिक दोनों रूप से लाभकारी होगाए नक्षत्र वाटिका में जिन पौधों का रोपण किया जाता है वह 27 नक्षत्र के अलग-अलग पौधे होते हैं और उनका अपना-अपना औषधि गुण है इसके अलावा दुर्लभ प्रजाति के औषधि पौधे और लुप्त हो रही प्रजातियों के पौधे का रोपण किया जाता  है इसलिए  नक्षत्र वाटिका प्रत्येक ग्राम में हो ऐसा संकल्प वसुंधरा सिंगार युवा मंडल का है उन्होंने कहा कि हमारे धर्म ग्रंथों में पेड़ों को साक्षात ईश्वर का रूप माना जाता है और उनकी पूजा की जाती है प्राचीन समय में हमारी प्रकृति हरी-भरी हुआ करती थी परंतु मानव ने अपने स्वार्थ के लिए वृक्षों की अंधाधुंध कटाई की है जिसके परिणाम स्वरूप आज हमारी वायु दूषित हो चुकी है और बड़े-बड़े शहरों में सांस लेना मुश्किल हो रहा है जिसका परिणाम हम कोरोना जैसी महामारी में देख चुके हैं अत: मानव को समय रहते पर्यावरण संतुलन बनाए रखने हेतु अपने चारों ओर वृक्षारोपण करना होगा। इस अवसर पर आश्रम के महंत रामबाबू महाराज, रमन श्रीवास्तव, सोमदेव उपाध्याय, रिंकू यादव, शेर सिंह धारिया,  शिवव्रत, कन्हैया  यादव, देवव्रत आदि लोग उपस्थित रहे।