स्वास्थ्य मंत्री के आश्वासन पर हड़ताल स्थगित हुई है समाप्त नहीं

भिण्ड.ShahikantGoyal/ @www.rubarunews.com>> रविवार को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र मेहगांव उद्यान परिसर में आशा उषा आशा सहयोगिनी संघ की बैठक प्रदेशाध्यक्ष सुश्री लक्ष्मी कौरव की अध्यक्षता में संपन्न हुई। बैठक में 100 से भी अधिक आशा व सहयोगी कार्यकर्ता उपस्थित रही प्रदेश अध्यक्ष के द्वारा बताया गया के अनिश्चितकालीन हड़ताल के दौरान 24 जून को राजधानी में विशाल धरना प्रदर्शन हुआ जिसके चलते एनआरएचएम के अधिकारियों एवं मिशन संचालक के साथ प्रशासन की मध्यस्थता में बैठक कराई गई जिसमें नेशनल हेल्थ मिशन संचालक सुश्री छवि भारद्वाज के द्वारा ?10000 आशा कार्यकर्ताओं को देने की बात कही गई लेकिन लिखित में इस प्रस्ताव को देने मैं विलंबऔर टालमटोल होने से संगठन ने दोबारा से 29 जून को मुख्यमंत्री जी के गृह जिले सीहोर से एवं स्वास्थ्य मंत्री के गृह जिले रायसेन से पदयात्रा निकाली जिसे प्रशासन के द्वारा बीच में रोककर पुन: एनएचएम के अधिकारियों से बातचीत करा कर समाधान करने का प्रयास किया और 30 जून को संगठन के नाम लिखित पत्र जारी किया जिसमें गोलमोल भाषा का उपयोग करते हुए वेतन की मांग को छुपाया गया जिसके चलते आंदोलन लगातार उग्र होता जा रहा था उसी बीच स्वास्थ्य मंत्री प्रभु राम चौधरी जी ने बंगले पर संगठन के पदाधिकारियों और एनएचएम के डायरेक्टर और डिप्टी डायरेक्टर को बुलाकर सकारात्मक वार्ता में शामिल किया। संगठन ने स्वास्थ्य मंत्री के आग्रह पर सरकार को समय देते हुए हड़ताल स्थगित करना तय किया बताना उचित होगा कि हड़ताल को स्थगित किया गया है ना कि समाप्त मांगे पूरी न होने की दशा में 30 दिवस का समय पूर्ण होते ही आंदोलन पुन: उग्र और प्रभावी रूप से आरंभ होगा। जिसकी संपूर्ण जिम्मेदारी शासन और एनएचएम की होगी तब तक संगठन के प्रत्येक कार्यकर्ता के द्वारा अपने कार्यस्थल पर पूर्व की भांति प्रत्येक स्वास्थ्य सेवा को सुचारू रूप से संचालित किया जाएगा क्योंकि संगठन का प्रमुख उद्देश्य ही है स्वास्थ्य सेवाओं को शुद्र बनाना और उसके लिए काम करना उसी काम के बदले दाम मांगने वाला यह संगठन जीने लायक वेतन के लिए सक्रिय रुप से कार्यरत है। खंड इकाई मेहगांव की नवीन कार्यकारिणी के गठन पर प्रदेशाध्यक्ष लक्ष्मी कौरव के द्वारा शुभकामनाएं और बधाई देते हुए कार्यकारिणी को लगन निष्ठा एवं पूर्ण इमानदारी से संघर्ष करने की सीख दी गई है खंड इकाई मेहगांव की कार्यकारिणी एवं प्रत्येक आशा सहयोगिनी कार्यकर्ता के द्वारा शपथ लेते हुए कहा कि हम कार्यस्थल पर अपने कार्य को सरकार की मंशा के अनुरूप पूरी लगन और मेहनत के साथ करेंगे और मांग ना पूरी होने की दशा में सरकार के खिलाफ उससे भी अधिक लगन और मेहनत से से अपने आंदोलन को मजबूत बनाएंगे।