ग्रीन भिण्ड की अवधारणा को लेकर कार्य करें स्वयं सेवी संगठन : कलेक्टर

भिण्ड.ShashikantGoyal/ @www.rubarunews.com>> मध्यप्रदेश शासन द्वारा अंकुर कार्यक्रम का संचालन किया जा रहा है जिसके अंतर्गत वायुदूत एप्लीकेशन के माध्यम से पौधे का फोटो अपलोड करना है स्वयंसेवी संस्थाओं का यह नैतिक दायित्व है कि ग्रीन भिंड की अवधारणा को लेकर कार्य करें उक्त बात कलेक्टर डॉ सतीश कुमार एस ने कलेक्ट्रेट सभागार में हुई बैठक में कहीं। वे जन अभियान परिषद द्वारा आयोजित स्वयं संस्थाओं और समाजसेवियों की बैठक में बोल रहे थे। इस अवसर पर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ अजीत मिश्रा एवं सिविल सर्जन डॉक्टर अनिल कुमार गोयल सहित जन अभियान परिषद के जिला समन्वयक शिव प्रताप सिंह भदोरिया और 40 से अधिक स्वयंसेवी संगठनों के प्रतिनिधि व समाजसेवी उपस्थित थे।

 

बैठक में कलेक्टर डॉ सतीश कुमार एस ने कहा कि आगामी 8 अगस्त को जिले में वृहद वृक्षारोपण होना है इसकी रूपरेखा तैयार की जा रही है इसके लिए समस्त विभागों को एक लक्ष्य दिया गया है लेकिन यह कार्य केवल विभागों का नहीं है इसमें स्वयंसेवी संगठनों और समाज सेवियों की भी प्रमुख भूमिका है अत: इस बैठक का उद्देश्य भी अपने शहर को किस तरह हरा-भरा बनाए इसको लेकर रखा गया है। आप सभी समाजसेवी संस्थाओं और समाज सेवियों से का आवाहन करता हूं कि वे अधिक से अधिक पौधे लगाकर सरकार की मंशा को साकार करें डॉ अजीत मिश्रा ने कहा कि भिण्ड के स्वाभिमान को जिंदा रखने के लिए इस अभियान में प्राणपण से जुटना होगा, तभी हम शासन की मंशा अनुरूप लक्ष्य को प्राप्त कर सकेंगे। आप जो भी पौधे का रोपण करें उसे वायूदूत एप्लीकेशन पर जरूर अपलोड करें इस अवसर पर समाजसेवियों तथा स्वयंसेवी संगठनों के प्रतिनिधियों ने अपने विचार भी व्यक्त किए।

 

इस बैठक में इंदिरा गांधी चौराहे से लेकर बस स्टैंड तक और इंदिरा गांधी चौराहा से लेकर सर्किट हाउस तक इसके साथ मालनपुर से लेकर भिण्ड तक तथा गौरी सरोवर पर वृहद वृक्षारोपण की रूपरेखा भी तैयार की गई। इसमें कई संगठनों ने महत्वपूर्ण सुझाव दिए बैठक का संचालन आभार प्रदर्शन मध्यप्रदेश जन अभियान परिषद के जिला समन्वयक शिव प्रताप सिंह भदोरिया ने किया।