डॉ. श्यामाप्रसाद मुखर्जी का बलिदान जम्मू कश्मीर की विचारधारा को लेकर हुआ : लाल सिंह आर्य

भिण्ड.ShashikantGoyal/ @www.rubarunews.com>> भाजपा अनुसूचित जाति मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष लाल सिंह आर्य ने कहा कि भारतीय जनसंघ के संस्थापक डॉ. श्यामाप्रसाद मुखर्जी ने अपने व्यक्तित्व और कृतत्व से संविधान को बचाने के लिए आखिरी सांस तक संघर्ष किया। डॉ. मुखर्जी ने जम्मू-कश्मीर से धारा 370 को हटाने के लिए एक आंदोलन देश में ख?ा किया। उनका हमेशा यहीं कहना रहा कि एक देश में दो विधान दो निशान नहीं चलेंगे-नहीं चलेंगे। उन्होंने तत्कालीन नेहरू सरकार को झकझोर कर रख दिया। कश्मीर भारत का एक अभिन्न अंग हैं, जो भारत का मुकुट हैं। उसकी रक्षा के लिए डॉ. श्याामा प्रसाद मुखर्जी ने अपना बलिदान हंसते-हंसते दे दिया। उपरोक्त उद्गार उन्होंने भिण्ड शहर के विद्यावती विद्यालय परिसर के सभागार में भाजपा द्वारा आयोजित डॉ. मुखर्जी के बलिदान दिवस पर संगोष्ठी में पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए व्यक्त किए। कार्यक्रम की अध्यक्षता पार्टी जिलाध्यक्ष नाथू सिंह गुर्जर ने की। विशिष्ट अतिथि के रूप में प्रदेश भाजपा उपाध्यक्ष एवं पूर्व विधायक मुकेश चैधरी मंचासीन थे। कार्यक्रम का संचालन विधि प्रकोष्ठ के प्रदेश सह संयोजक राममिलन शर्मा एडवोकेट एवं आभार कार्यक्रम संयोजक अशोक सिंह कुशवाह बाराकलां ने किया।

 

भाजपा अनुसूचित जाति मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष लाल सिंह आर्य ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और केन्द्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने भारत की संसद में डॉ. मुखर्जी की विचारधारा को लेकर कश्मीर से धारा 370, 35ए को हटाने का प्रस्ताव रखा। विरोधी दलों के कड़े विरोध के बावजूद भी दोनों सदनों में बिल को पास करते हुए जम्मू-कश्मीर के विकास की दिशा में काम किया। आज कश्मीर की जनता ने मोदी जी के निर्णय को स्वीकार कर विकास की दिशा में आगे बढऩे का काम किया है। उन्होंने कहा कि डॉ. श्यामाप्रसाद मुखर्जी भारतीय जनसंघ से लेकर भाजपा के संगठन का जो बीज बोया था, आज वह पूरे देश में 20 करोड़ से अधिक सदस्यों के साथ और कार्यकर्ताओं के परिश्रम से वटवृक्ष बनकर उभरा है। जिसकी छत्रछाया में हम सब बैठे है। उन्होंने डॉ. मुखर्जी के बलिदान दिवस पर पाकिस्तान पर निशाना साधते हुए कहा कि कुछ समय पूर्व पाकिस्तान ने पुलवामा में हमारे भारतीय सैनिकों को मार गिराया था, जबाव में भारतीय सेना ने कठोर निर्णय लेकर एयरस्ट्राइक कर पाकिस्तान को उसकी औकात दिखाने का काम किया।