तीन वैक्सीनेशन सेंटरों पर उमड़ी भीड़ में हुई धक्का-मुक्की व  झगड़े में 4 वायल टूटे, प्रशासन ने मामला दबाने का किया प्रयास

भिण्ड.ShahikantGoyal/ @www.rubarunews.com>> गोहद क्षेत्र के तीन दिनों वैक्सीनेशन केन्द्रों पर टीकाकरण के लिए भारी भीड़ उमड़ रही है। इंतजार न करने के एवज में कतार में खड़े लोग एक-दूसरे को धक्का मुक्की कर टीका लगवा रहे हैं। जिससे प्रशासन की व्यवस्थाएं चौपट होती दिख रही है। ऐसा ही मामला जिले के गोहद ब्लॉक में तीन जगहों पर उपद्रव होने का सामने आया है। जिसमें हितग्राहियों द्वारा स्वास्थ्यकर्मियों से धक्कामुक्की की गई और केंद्र में रखे सामान को तोड़ दिया गया। एक केंद्र से वैक्सीन के 4 वायल लूट ले गए। इसमें से एक वायल को कचरे में फेंक कर चले गए। घटना के बाद पुलिस महकमे और स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप है। अब पुलिस और स्वास्थ्य विभाग के अफसर एक दूसरे पर मामला टाल रहे है। पुलिस अफसरों का कहना है कि ऐसी घटना हुई थी तो बताना चाहिए था। वहीं, स्वास्थ्य अफसर कह रहे सुरक्षा की जिम्मेदारी पुलिस की है।

 

गोहद के गंज इलाके में स्थित शासकीय कन्या स्कूल में शनिवार को वैक्सीनेशन चल रहा था। सेंटर पर तैनात स्वास्थ्य कर्मी उषा मौर्य, राखी वर्मा, कंप्यूटर ऑपरेटर पंकज कांकर और टीकाकरण कर रहे राघवेंद्र गुर्जर सुबह करीब साढ़े दस बजे बैठकर टीकाकरण कर रहे थे। यहां करीब दो सौ से ज्यादा लोग लाइन में लगे थे। लोगों में धक्कामुक्की होने लगी। इस समय कोई सुरक्षा बल मौजूद नहीं थी। पहले वैक्सीन लगाए जाने को लेकर दबाव बनाने लगे। इस पर वैक्सीनेशन रोक दिया गया तो वे लड़ाई झगड़े पर उतारू हो गए।

भीड़ ने मारपीट शुरू कर दी। दोनों पुरूष कर्मचारी वहां से भाग खड़े हुए। इसके बाद महिला कर्मचारियों ने अपने को कमरे में करीब 30-40 मिनट तक बंद रखा। उपद्रव करने वाले अपने साथ वैक्सीन के चार वायल लूटकर ले गए, जिसमें तीन पैक थे और एक वायरल में से तीन डोज लगाए जा चुके थे। जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ एसके व्यास के मुताबिक एक वायरल, कचरे में ढेर में फेंक गए थे। जिसे कर्मचारियों ने बरामद कर लिया है।

 

यहां मोबाइल और लैपटॉप लूटे, फिर वापस कर गए

गोहद के खटाना प्लाजा पर पहली बार वैक्सीनेशन सेंटर बनाया गया। यहां तैनात लक्ष्मी जाटव वैक्सीन लगा रही थी। यहां एक अन्य कर्मचारी के साथ धक्कामुक्की की और मोबाइल और लैपटॉप छीन लिया था। इसके बाद कर्मचारी को वापस कर गए।

 

एंडोरी में भी हुई घटना, पुलिस ने दबाया मामला

एंडोरी और बाराहेड पर भी कर्मचारियों के साथ मारपीट की घटना हुई। एंडोरी में एक कर्मचारी अजीत रजक का लैपटॉप, उपद्रवी तो? गए। यहां रजिस्ट्रेशन कर रहे कर्मचारी के चांटे भी मारे। वहीं वैक्सीन लगा रही महिला कर्मचारी ने विरोध किया तो उसे भी धमकाया। जब पुलिस बल पहुंचा तब तक उपद्रवी भाग निकले। इसके बाद पूरे समय पुलिस बल मौजूद रहा। एंडोरी थाना प्रभारी ब्रजमोहन सिंह का कहना है कि मैं स्वयं वैक्सीनेशन सेंटर पर चार घंटे रहा। दोपहर का भोजन वहीं पर लिया। यहां किसी कर्मचारी ने कोई शिकायत नहीं की।

इनका कहना है:

वैक्सीनेशन सेंटर पर उपद्रव होना। वैक्सीनेशन सेंटर पर वायरल लूट की घटना से स्वास्थ्य कर्मियों में दहशत है। स्क्क से मुलाकात कर सुरक्षा की मांग करेंगे।

डॉ अजीत मिश्रा मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी भिण्ड