शत प्रतिशत लोगों का टीकाकरण हो इसके लिए रणनीति बनाकर कार्य किया जाये – कमिश्नर

श्योपुर.Desk/ @www.rubarunews.com>>कोविड-19 की रोकथाम के लिये चलाए जा रहे टीकाकरण अभियान के तहत 18 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के शतप्रतिशत लोगों का टीकाकरण किया जाना है। ग्वालियर-चंबल संभाग के सभी जिलों में टीकाकरण कार्य को सर्वोच्च प्राथमिकता से करने के निर्देश संभागीय कमिश्नर  आशीष सक्सेना ने मंगलवार को गूगल मीट के माध्यम से आयोजित समीक्षा बैठक में दिए।
कोविड-19 एवं बाढ़ के कारण प्रभावित हुए गाँवों में राहत वितरण के संबंध में आयोजित समीक्षा बैठक में ग्वालियर-चंबल संभाग के सभी जिलों के जिला पंचायतों के सीईओ, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी, राहत प्रभारी एवं अन्य विभागीय अधिकारी उपस्थित थे। संभागीय कमिश्नर श्री सक्सेना ने कोविड-19 के टीकाकरण की समीक्षा के दौरान निर्देश दिए हैं कि ग्वालियर-चंबल संभाग के सभी जिलों में शतप्रतिशत घरों पर टीकाकरण से संबंधित स्टीकर चस्पा किया जाए। जिस पर परिवार के सदस्यों की संख्या, 18 वर्ष से अधिक आयु के सदस्यों की संख्या, कोविड टीकाकरण का प्रथम एवं द्वितीय डोज लगा अथवा नहीं, इसकी जानकारी अंकित की जाए।
संभाग कमिश्नर ने ग्वालियर-चंबल संभाग के सभी जिलों के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारियों को निर्देशित किया कि घरों पर स्टीकर लगाने की कार्ययोजना तैयार कर जिला कलेक्टर से अनुमोदित कराकर तत्परता से कार्य कराया जाए। जिलों में भ्रमण के दौरान उक्त कार्रवाई का निरीक्षण भी किया जाएगा। उन्होंने समीक्षा के दौरान यह भी निर्देश दिये कि गूगल मीट के माध्यम से दिए गए निर्देशों के पालन के लिये भी सभी मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी कार्रवाई विवरण तैयार कर की गई कार्रवाई से संभागीय कार्यालय को अवगत कराना भी सुनिश्चित करें।
समीक्षा बैठक के दौरान संभाग कमिश्नर श्री सक्सेना ने यह भी निर्देशित किया कि ग्वालियर-चंबल संभाग के सभी जिलों में यह भी सुनिश्चित किया जाए कि सभी ग्राम आरोग्य केन्द्र, उप स्वास्थ्य केन्द्र व प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र प्रतिदिन नियमित समय पर खुलें और वहाँ पर उपलब्ध स्टाफ लोगों को बेहतर सुविधाएँ प्रदान करें। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी अधीनस्थ स्वास्थ्य संस्थाओं को प्राप्त होने वाले अनटाइड फण्ड का उपयोग शतप्रतिशत हो, इसकी भी मॉनीटरिंग करें।
बाढ़ प्रभावितों को राहत वितरण में न हो लापरवाही
संभागीय कमिश्नर  आशीष सक्सेना ने गूगल मीट के माध्यम से अति वर्षा से प्रभावित गाँवों में वितरित की जा रही राहत राशि की भी समीक्षा की। उन्होंने निर्देश दिए हैं कि ग्वालियर-चंबल संभाग के सभी जिलों में अति वर्षा से प्रभावित ग्रामों में प्रभावितों को शासन के दिशा-निर्देशानुसार जो सहायता उपलब्ध कराई जानी है उसे तत्परता से कराएँ। संभागीय कमिश्नर श्री सक्सेना ने यह भी निर्देश है कि अति वर्षा के कारण जिन प्रभावितों के आवास क्षतिग्रस्त हुए हैं उनको आवासों के लिये जो राशि दी जाना है वह तत्परता से वितरित की जाए। शहरी क्षेत्र में जिन हितग्राहियों को प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत लाभ दिया जा सकता है उनकी डीपीआर तत्काल तैयार कर शासन को भेजने की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए। संभागीय कमिश्नर श्री सक्सेना ने निर्माण विभाग के अधिकारियों को भी निर्देशित किया है कि बाढ़ के कारण जो अधोसंरचनाएँ खराब हुई हैं उनको ठीक करने की सम्पूर्ण कार्ययोजना तैयार करने के साथ-साथ जो तत्काल प्रभाव से संरचनाएँ ठीक की जा सकती हैं उन्हें ठीक करने का कार्य भी विभाग करे ताकि लोगों को आवागमन में किसी प्रकार की परेशानी न हो।