63.56 करोड़ की लागत से तैयार हुई लघु सिंचाई परियोजना

बून्दीKrishnakantRathore/ @www.rubarunews.com>> जिला कलेक्टर आशीष गुप्ता ने  हिण्डोली तहसील की बहुप्रतीक्षित बडानयागांव लघु सिंचाई परियोजना का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान उन्होंने बांध की भराव क्षमता, निर्माण लागत, बांध से सिंचित होने वाली कृषि भूमि आदि के बारे में विस्तार से जानकारी ली।
जल संसाधन विभाग के अधिशाषी अभियंता राजेन्द्र पाटनी ने बताया कि सिंचाई परियोजना का कार्य पूर्ण हो चुका है तथा वर्तमान मानसून में बांध पूर्ण भर चुका है। उन्होंने बताया कि बांध की नहरों का निर्माण कार्य भी पूरा करवाया जा चुका है। उड़यन नदी पर बने इस बांध से इस वर्ष बोरदा, दरा का नयागांव, बडगांव, सांभरबाड़ी, डाबेटा, विषधारी गांवों के किसानों की करीब पांच हजार बीघा जमीन में रबी की फसल को सिंचाई सुविधा मिलेगी। परियोजना से अभयारण्य क्षेत्र में रहने वाले वन्यजीवों को भी पानी की सुविधा रहेगी। पानी के पूर्ण भराव पश्चात् आस पास के गांवों के बोरिंग में भी पानी के स्तर में काफी बढ़ोतरी हुई है।
63.56 करोड़ की लागत से तैयार हुई परियोजना
परियोजना की लागत 63.56 करोड़ रूपये, बांध की लम्बाई 1200 मीटर वेस्ट वियर की लम्बाई 450 मीटर, भराव क्षमता 5.86 एमसीयूएम, बांध की मुख्य नहर, माइनर एवं दो सब माईनर कुल लम्बाई 14.29 किलोमीटर, क्षेत्र के गांव बोरदा, दरा का नयागांव, बडगांव, सांभरबाड़ी, डाबेटा, विषधारी के किसानों की 758 हैक्टेयर भूमि सिंचित होगी, बांध के डूब क्षेत्र में दो गांव सियाणा व जवाहर जी का बाडा प्रभावित हुए दोनों गांव में 191 निजी मकान प्रभावित हुए, जिन्हें सियाणा बरड़ा में लॉटरी द्वारा प्लॉटो का आंवटन किया जा चुका है। तथा मकानों की मुआवजा राशि 8 करोड़ 15 लाख का मुआवजा दिया जा चुका है।