साफ सफाई में लाखों खर्च फिर भी व्यवस्था जस की तस-उड़ाई जा रही कलेक्टर के आदेश की धज्जियां

भिण्ड.ShashikantGoyal/ @www.rubarunews.com>> मध्यप्रदेश को सुंदर खुशहाल विकसित प्रदेश बनाने  में भले ही जुटे हो मध्यप्रदेश सरकार के मुखिया शिवराज सिंह चौहान आए दिन नित नई नई योजना बना रहे हो एवं केंद्र की मोदी सरकार स्वच्छ भारत अभियान को भले ही मूल रूप देने के लिए दिन रात प्रयास कर रही वहीं सरकार के नुमाइंदे ही नगर परिषद के अभियान को पलीता लगाते नजर आरहे है। हम बात कर रहे है भिंड जिले के लहार अनुविभाग की मिहोना नगर परिषद की जहां वार्डवासियों को आज भी नारकीय जीवन जीने को मजबूर होना पड़ रहा है एक तरफ नगर परिषद  स्वच्छता अभियान चलाकर नगर को नंबर वन बनाने की तैयारी में शासन को झूठे आंकड़े देकर बाह बही लूट रही नपा तो वहीं समाचार प्रकाशित होने के बाद नपा के द्वारा नालों से पॉलीथिन बिन बाने का कार्य किया जा रहा है। मिहोना नगर परिषद के नपा अधिकारी डीपी शर्मा द्वारा कलेक्टर के आदेश को  डाला कूड़ेदान में आपको बतादें कि भिंड कलेक्टर सतीश कुमार एस के द्वारा 25 मई को वर्षा से जलभराव हेतु भिंड जिले के समस्त नगरी निकाय की एक बैठक बुलाई गई जिसमें सभी नगरी निकाय  को निर्देशित किया गया था कि 07 दिवस के अंदर सभी नगरी निकायों में नाले व नालियों की सफाई कार्य होना चाहिए मगर  मिहोना नपा में पदस्थ मुख्य नपा अधिकारी डीपी शर्मा के  द्वारा कलेक्टर के आदेश की सरे राह अवहेलना कर  नगर परिषद क्षेत्र में की जा रही फॉर्मलटी जिसके चलते नगर परिषद क्षेत्र जलमग्न हो चुका है  पिछले माह हुई हल्की  बारिश में वार्ड नंबर 13 एवं 08 वार्ड में जलभराव हुआ था अब जब साफ सफाई को लेकर नपा कुम्भकर्णी निंद्रा में है ऐसे में जब कलेक्टर के आदेश को मुख्य नपा अधिकारी  डीपी शर्मा ने ठेंगा दिखाया था अब हर रोज होगी बारिश सीएमओ रोज करेगें साफ सफाई का दिखावा कलेक्टर के आदेशो की धज्जियां पहले भी उड़ा चुके है मुख्य नपा अधिकारी। जिसका जीता जागता उदाहरण नपा के सामने बने थाना परिसर से बारिश निकलता हुआ पानी है जिसके लिए बार्ड बासियों ने एक शिकायती आवेदन देकर नपा से लगाई गुहार पर नपा ने अबतक नही ली सुध

 

सीएमओ का नहीं उठता फोन

वार्ड बासी वार्ड क्रमांक 06 निवासियों ने चर्चा में बताया  कि मिहोना नगर परिषद की व्यवस्था ऐसी है जैसे अंधेर नगरी चोपट राजा यहां पदस्थ सीएमओ  अपनी मटर गस्ती में मस्त रहते साफ सफाई के नाम पर फॉर्मलटी करते है सीएमओ को फोन पर कोई समस्या बताओ तो उनका फोन नही उठता अपनी समस्या कहे तो किससे? हल्की बूंदा बांदी में सड़कें पानी से लबालब हो जाती कुछ समय पहले बारिश में यह नजारा देखने को मिला था और आगे बारिश में लोगों के घरों में पानी देखने को मिलेगा।

इनका कहना है:

नांलों की साफ सफाई के लिए आदेशित किया गया था उसके बाबजूद भी अब तक जल निकासी की व्यवस्था नही की गई व साफ सफाई नही की गई है तो जानकारी कर सम्बन्धित के खिलाफ कार्रबाई  की जाएगी।

आर.ए. प्रजापति अनुविभगीय राजस्व अधिकारी लहार