बूंदी में स्वास्थ्य सेवाओं का होगा सुदृढ़ीकरण, मेडिकल कॉलेज का कार्य भी शीघ्र होगा शुरू – श्री ओम बिरला

बूंदी KrishnakantRathore/ @www.rubarunews.com>>लोकसभा अध्यक्ष  ओम बिरला ने मंगलवार को अपने संसदीय क्षेत्र के प्रवास के दौरान बूंदी में कोविड-19 स्थितियों एवं प्रबंधन की समीक्षा की। लोकसभा अध्यक्ष ने इस अवसर पर कहा कि बूंदी में चिकित्सा व्यवस्थाओं के सुदृढ़ीकरण के लिए निरंतर कार्य किया जा रहा है। बूंदी चिकित्सालय आईसीयू में बेड बढ़ाने के निर्देश दिए गए हैं। जिला अस्पताल को ऑक्सीजन के लिहाज से शीघ्र ही आत्मनिर्भर बना दिया जाएगा। 325 करोड़ की लागत वाले मेडिकल कॉलेज के लिए कार्य शीघ्र शुरू करने के निर्देश दिए गए हैं। इसके लिए केंद्र द्वारा बजट राशि का 50 प्रतिशत हिस्सा राज्य सरकार को दिया जा चुका है। उन्होंने कहा कि जिले में सीएचसी एवं पीएचसी स्तर तक स्वास्थ्य सेवाओं का सुदृढ़ीकरण किया जा रहा है जिससे ग्रामीण क्षेत्र के लोगों को अब जिला अस्पताल तक नहीं आना पड़ेगा। उन्होंने बताया कि स्वास्थ्य सेवाओं की मजबूती के लिए “मेरा गांव स्वस्थ गांव” अभियान आरंभ किया जाएगा जिसके अंतर्गत गांव स्तर तक स्वास्थ्य कार्यकर्ता तैयार किए जाएंगे जो ग्रामीणों को प्राथमिक स्तर की स्वास्थ्य सेवाएं त्वरित तौर पर उपलब्ध कराएंगे। इन कार्यकर्ताओं को प्रशिक्षण दिया जा कर आवश्यक उपकरण तथा दवाओं के किट उपलब्ध कराए जाएंगे। इन स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं को टेलीमेडिसिन से भी जोड़ा जाएगा जिससे ग्रामीणों को वरिष्ठ चिकित्सकों का परामर्श घर बैठे ही मिल सकेगा।

उन्होंने बूंदी वासियों से अपील की कि इन दिनों कोरोना संक्रमण में हालांकि गिरावट आ रही है लेकिन अभी भी सजगता और सावधानी की जरूरत है। संक्रमण से बचाव के लिए सभी सावधानियां रखें तथा लक्षण सामने आने पर तुरंत चिकित्सक से सलाह लें।लोकसभा अध्यक्ष ने उनकी ही पहल पर न्यू कॉलोनी में सामुदायिक केंद्र में बनाए गए ऑक्सीजन कंसंट्रेटर बैंक एवं सहायता केंद्र का भी निरीक्षण किया। यहां विधायक अशोक डोगरा, सुरेश अग्रवाल, महावीर खंगार एवं अन्य ने व्यवस्थाओं की जानकारी दी जिसकी उन्होंने सराहना की।

अस्पताल में देखी व्यवस्थाएं,रोगियों से पूछी कुशलक्षेम
लोकसभा अध्यक्ष श्री ओम बिरला ने मंगलवार को जिला चिकित्सालय का निरीक्षण कर उपचार सुविधाओं एवं व्यवस्थाओं का जायजा लिया। लोकसभा अध्यक्ष ने जिला चिकित्सालय पहुंच कर यहां वार्ड में भर्ती रोगियों से कुषलक्षेम पूछी। साथ ही अस्पताल में मिल रही सुविधाओं की जानकारी ली।
इसके बाद श्री बिरला ने चिकित्सालय में जिला कलक्टर आशीष गुप्ता, पुलिस अधीक्षक शिवराज मीना, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी, पीएमओ के साथ बैठक लेकर कोविड-19 संक्रमण की स्थिति, उपचार व्यवस्थाओं की जानकारी ली और आवष्यक दिषा निर्देष दिए।

लोकसभा अध्यक्ष ने निर्देष दिए कि जिला चिकित्सालय की व्यवस्थाओं को और बेहतर बनाया जाए। इसके अस्पताल के जीर्णोद्धार की योजना तैयार करें। उन्होंने निर्देष दिए कि जिले में 6 सीएचसी को भी क्रमोन्नत करने के लिए चिन्हित किया जावे। उन्होंने कहा कि बेहतर प्रबंधन एवं उपचार सुविधाएं बढाकर बूंदी जिले के चिकित्सा सुविधाओं में अग्रणी बनाने के प्रयास हों। उन्होंने निर्देष दिए कि बूंदी में एनआईसीयू की योजना तैयार की जावे। खटकड़ में स्वास्थ्य केंद्र का निर्माण कार्य जल्द प्रारंभ हो।
इस दौरान लोकसभा अध्यक्ष ने बूंदी अस्पताल को दो एम्बुलेंस देने की घोषणा भी की। इनमें एक एम्बुलेंस में जीवन रक्षा के सभी उपकरण तथा दूसरीएम्बुलेंस ऑक्सिजन सुविधा से लैस होगी। उन्होंने अस्पताल के आईसीयू के लिए माॅनिटर देने की भी घोषणा की।

लोकसभा  ओम बिरला ने मंगलवार को तालेड़ा राजकीय सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र का भी निरीक्षण किया। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी महेंद्र त्रिपाठी, ब्लॉक मुख्य चिकित्सा अधिकारी जगदीश अग्रवाल व तालेड़ा अस्पताल प्रभारी ब्रजमोहन मालव से अस्पताल की व्यवस्थाओं के बारे में जानकारी प्राप्त की। इस दौरान आधुनिक सोनोग्राफी मशीन की जरूरत सामने आने पर उन्होंने वहां मौजूद विधायक अशोक डोगरा को अपने विधायक कोष से अस्पताल में शीघ्र सोनोग्राफी की मशीन उपलब्ध कराने को कहा। वार्डों में एयर कंडीशनर लगाने तथा अन्य चिकित्सा सुविधाओं को पूरा करने की बात भी कही। लोकसभा अध्यक्ष ने बरुन्धन , सुवासा व ठीकरिया चारणान राजकीय स्वास्थ्य केंद्र पर ऑक्सीजन कसंट्रेटर उपलब्ध कराने के भी निर्देश दिये। जनप्रतिनिधियों द्वारा अवगत कराने पर अस्पताल के नए भवन र्निर्माण की मांग पर लोकसभा अध्यक्ष ने अस्पताल प्रभारी को नए भवन का तकमीना बनाकर केंद्रीय अल्पसंख्यक मंत्रालय को भिजवाने के निर्देश दिए।