जीवन की अंतिम सांस तक करूंगा सेवा, बहनों की मदद करो तो पूर्व विधायक को होता है कष्ट : संजू

भिण्ड.ShashikantGoyal/ @www.rubarunews.com>> बाढ़ की त्रासदी ने नदी किनारे रहने वाले लोगों का सबकुछ छीन लिया है। बाढ़ प्रभावित लोगों की मदद के लिए मैं और मेरा परिवार हमेशा तत्पर रहूंगा। अपने जीवन की अंतिम सांस तक सेवा करूंगा। बहनों की मदद करने पर पूर्व विधायक के पेट में दर्द हो रहा है। बहनों की मदद से उन्हें हमेशा से कष्ट होता आया है। उन्हें पहले भी बहनें मजा चखा चुकी हैं और आगे भी सबक सिखाएंगीं। यह बात भिंड विधायक संजीव सिंह संजू ने कही। विधायक ने कहा कि बहनों के स्नेह के लिए वे हमेशा उनके ऋणि रहेंगे।

 

पूर्व विधायक ने बाढ़ पीडि़तों का मजाक उड़ाया 

विधायक संजीव सिंह संजू ने कहा बाढ़ त्रासदी से पीडि़त लोगों की सेवा के लिए वे और उनका परिवार समर्पित हैं। उन्होंने कहा वे बाढ़ पीडि़तों के लिए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से भोपाल में मिले तब भी परिवार ने प्रभावितों की सेवा का क्रम नहीं टूटने दिया। पिता पूर्व सांसद डा. रामलखन सिंह, चाचा रवींद्र सिंह रवि बाढ़ पीडि़तों के बीच में रहकर उनका दर्द बांटते रहे। वहीं पूर्व विधायक को शर्म आनी चाहिए कि वे बाढ़ में सबकुछ लुटा चुके लोगों की फिक्र छोड़कर सर्किट हाउस में अपनी राजनीति चमकाने के लिए बैठे। विधायक ने नसीहत देते हुए कहा यह समय राजनीति करने का नहीं, बल्कि प्रभावित लोगों, परिवारों की मदद का है। विधायक ने कहा कि यह बात बहुत तकलीफदेह है कि पूर्व विधायक को जिले के बाढ़ पीडि़तों के लिए 500 करोड़ का विशेष पैकेज मांगने पर भी आपत्ति है। उन्होंने कहा कि इस तरह पूर्व विधायक ने बाढ़ प्रभावितों का मजाक उड़ाया है। वे इसके लिए माफी मांगें।

 

राहत सामग्री पर नजर नहीं गड़ा पाएंगे

विधायक संजीव सिंह ने कहा कि पूर्व विधायक का इतिहास सभी जानते हैं। हमेशा से जनता को बांटे जाने वाला पीडीएस डकारने की नीयत रही है। यही नीयत बाढ़ पीडि़तों के लिए आई राहत सामग्री को लेकर नजर आ रही है। विधायक ने कहा कि पूर्व विधायक हों या कोई भी वे बाढ़ प्रभावितों के लिए आने वाली राहत सामग्री पर किसी को नजरें नहीं गड़ानें देंगे। विधायक ने कहा कि प्रदेश के संवेदनशील मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान राहत सामग्री सही हाथों में पहुंचाकर पीडि़तों का दर्द बांट रहे हैं, लेकिन पूर्व विधायक को इससे भी कष्ट हो रहा है। विधायक ने कहा कि आपदा के समय में जनप्रतिनिध होने से उनकी जिम्मदारी है कि मुख्यमंत्री की ओर से आ रही राहत सामग्री को सही हाथों तक पहुंचाएं। उन्होंने कहा कि किसी के पेट में कितना भी दर्द उठे, वे राहत सामग्री वितरण पर पूरी निगरानी रखेंगे। लोगों को उनका हक दिलाने के लिए रात-दिन एक कर देंगे।

 

शहर से माफी मांगकर प्रायश्चित करें पूर्व विधायक

विधायक संजीव सिंह संजू ने कहा पूर्व विधायक ने सर्किट हाउस में खुद कबूल कर लिया कि सीवरेज प्रोजेक्ट की वजह से शहर में जो बदहाली है, उसके लिए वे खुद दोषी हैं। विधायक ने कहा कि पूर्व विधायक इसके साथ ही शहर के लोगों से माफी मांगकर प्राश्चित कर लेते तो ज्यादा अच्छा होता। विधायक ने कहा कि कमीशनखोरी के चलते सीवरजे प्रोजेक्ट में कई ऐसी शर्तें जुड़वाईं गई, जिससे लोगों की परेशानी बढ़ी है। यह कमीशनखोरी के बजाए सेवा पर ध्यान देते तो आज ऐसे हालात नहीं होते। विधायक ने कहा कि वे रात-दिन एक कर शहर के विकास में लगे हैं। इसका बड़ा उदाहरण सुभाषचंद्र बोस तिराहा से इंदिरा गांधी चौराहा तक की सड़क है। यह सड़क पूर्व में भी बनी थी, लेकिन तब पूर्व विधायक ने अपने लालच के चलते गुणवत्ता पर ध्यान नहीं दिया था। अब यह शहर की सबसे अच्छी सड़क है। उन्होंने कहा महावीर गंज में बनाई गई सड़क का डिवाइडर पूर्व विधायक के समय कमीशनखोरी कार्यकाल का सबसे बड़ा उदाहरण है।

 

भिंड को पूरे प्रदेश में किया था शर्मसार

विधायक संजीव सिंह संजू ने कहा भिंड को हमेशा यहां के वीर सैनिकों, देश की रक्षा में कुर्बान होने वाले जवानों की शहादत से जाना जाता है, लेकिन पूर्व विधायक ने भिंड को प्रदेश देश और प्रदेश में कई बार शर्मशार किया है। उन्होंने कहा कि रेत कारोबारी से अवैध रूप से धन वसूली का उनका आडियो पूरे देश और प्रदेश से सुना है। फिर भी इन्हें कोई शर्म नहीं आती है। भिंड की बहनों, युवाओं की मदद से इन्हें हमेशा से कष्ट होता आया है।