बच्चों को भयमुक्त वातावरण देना व स्वास्थ्य के प्रति सजग बनाना बेहद आवश्यक है : डॉ खुशबू जसोतानी

बून्दी KrishnakantRathore/ @www.rubarunews.com>> – उमंग संस्थान तथा अखिल भारतीय राष्ट्रपति पुरस्कृत संगठन (आईपा) के संयुक्त तत्वाधान में शुक्रवार को नेशनल वेबिनार का आयोजन किया गया। वर्तमान परिप्रेक्ष्य में को कोरोना जागरूकता व बच्चों का मानसिक स्वास्थ्य विषय पर आयोजित राष्ट्रीय कार्यक्रम में रोहतक मेडिकल कॉलेज की वरिष्ठ प्रदर्शक डॉ खुशबू जसोतानी मुख्य वक्ता थी, नोबल मेडिकल कॉलेज विराटनगर नेपाल के रिसर्च स्कॉलर डॉ पीयूष शर्मा विशिष्ट अतिथि वक्ता थे। वेबीनार की अध्यक्षता पूर्व शिक्षा उपनिदेशक समाजसेवी जगदीश प्रसाद शर्मा ने की।

वेबीनार में बोलते हुए मुख्य वक्ता जसोतानी ने कहा कि महामारी का बच्चों के मानसिक स्वास्थ्य पर विपरीत प्रभाव पड़ा है ऐसे में अभिभावकों की जिम्मेदारी काफी बढ़ गई है कि वे बच्चों को अनावश्यक दबाव, डिजिटल क्लासेज के दबाव से दूर रखें। भयमुक्त सकारात्मक वातावरण के साथ सहज संतुलित व्यवस्थित दिनचर्या से जोड़ा जाए तथा स्वास्थ्य के प्रति सजग बनाते हुए उन्हें ध्यान योग मेडिटेशन व पौष्टिक आहार प्रदान किया जावे। बच्चों के मानसिक स्वास्थ्य हेतु इंडोर गेम, स्वस्थ मनोरंजन व उनसे वार्तालाप की बेहद आवश्यकता है।

कार्यक्रम संयोजक सर्वेश तिवारी ने बताया कि आयोजन में देश भर से 16 राज्यों के संभाग़ियों ने भाग लेते हुए कोविड काल मे बच्चो की मानसिकता पर पड़ रहे नकारात्मक प्रभाव पर विचार मंथन किया। विशिष्ट वक्ता के रूप में सहभागिता करते हुए डॉ पीयूष ने कोविड-19 व सतर्कता को समय के साथ लगातार जीवन शैली में अपनाने की महती आवश्यकता बताते हुए कहा कि बच्चों को अब मास्क, सोशल डिस्टेंसिंग व स्वच्छता नियमों इसके प्रति अनुकूलित होने के साथ अपनी प्रतिरोधक क्षमता पर ध्यान देना होगा।उन्होने कहा टीकाकरण समय की महती आवश्यकता है।

 

अपने अध्यक्षीय उद्बोधन में समाजसेवी शिक्षाविद जगदीश प्रसाद शर्मा ने स्वास्थ्य व पर्यावरण सरंक्षण का ताना-बाना समझाते हुए, बच्चों को स्वस्थ चिंतन व सकारात्मक मानसिकता के लाभ बताएं। उन्होंने कहा कि महामारी के इस विकट समय में हम स्वयं सजग रहकर दूसरों के प्रति मानवीय व्यवहार को अपनाएं तथा उनके मददगार भी बने ।

 

वेबीनार का शुभारंभ स्वागत उद्बोधन के साथ बिहार से आईपा संगठन के से राष्ट्रीय समन्वयक राशिद जुनैद ने किया उन्होंने देशभर के प्रतिभगियों का मानव सेवा में भूमिका निर्वहन हेतु यथा सम्भव योगदान हेतु आव्हान किया। गुजरात से सृष्टि फाउंडेशन के निदेशक अनुपम डे ने कोवीड के प्रति व्यापक जागरूकता के विभिन्न आयामों पर प्रकाश डाला। कार्यक्रम का संचालन आईपा व उमंग संस्थान के समन्वयक सर्वेश तिवारी ने किया। आयोजन सचिव कृष्णकांत राठौर ने सभी का आभार प्रकट किया।