आपातकाल एक काला अध्याय : अशोक भारद्वाज

मेहगांव.ShashikantGoyal/ @www.rubarunews.com>> लोकतांत्रिक देश भारत मे इंदिरा गांधी ने उस समय अंग्रेज ओर मुगलो के अत्याचारों को भी  पीछे छोड़ दिया इंदिरा जी ने अपनी प्रधानमंत्री पद की कुर्सी बचाने के लिए  लोकतंत्र पर कुठाराघात किया था  और आपातकाल के नाम पर  निरपराध लोगो को जेल में  डाल दिया था यह बात मेहगांव विधानसभा क्षेत्र के रोन मण्डल के ग्राम गोरई में भारतीय जनता पार्टी के  बरिष्ठ नेता अशोक भारद्वाज ने भाजपा कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कही उन्होंने कहा 25 जून 1975 से21 मार्च 1977 तक पूरे 21 माह तक पूरा भारत एक महिला की जिद ओर अहंकार की भेंट चढ़कर रह गया था  यक काल पूरे भारतीय इतिहास में इसीलिए दुर्भाग्य शाली माना जाता है  क्योंकि इस युग मे  आन्तरिक सुरक्षा अधिनियम  के अंतर्गत  सम्पूर्ण भारत मे  राष्ट्रभक्त कार्यकर्ताओं को  नजर बन्द किया गया था इस दौरान रोन मण्डल अध्यक्ष अवधेश बघेल, सुरेंद्र चौहान, मनोज पाठक के अलावा रौन मण्डल के अन्य कार्यकर्ता मौजूद थे। कार्यक्रम के मुख्यातिथि अशोक भारद्वाज ने इस मौके पर क्षेत्र के मीसा बंदियों का साल श्रीफल देकर सम्मान किया।