कोरोना की दूसरी लहर बेहद खतरनाक,‘जीरो डेथ,सेव लाइफ’ पॉलिसी पर काम करें-जिला कलेक्टर

बूंदीKrishnaKantRathore/@www.rubarunews.com   जिला कलेक्टर आशीष गुप्ता ने कहा है कि कोरोना की दूसरी लहर बेहद खतरनाक है, इसे गंभीरता से लें। हमें  ‘जीरो डेथ, सेव लाइफ’ पॉलिसी पर चलना है। अतः पाॅजिटिव पाए गए लोगों के प्रबंधन एवं मॉनिटरिंग में कोई कोताही ना हो। साथ ही कोरोना रोकथाम की राज्य सरकार की गाइड लाइन की सख्ती से पालना कराएं।




जिला कलेक्टर ने ये निर्देश बुधवार को वीसी के जरिए उपखण्ड अधिकारियों, बीसीएमओ तथा संबंधित अधिकारियों को दिए।जिला कलेक्टर ने कहा कि कोरोना तेज गति से बढ रहा है। ऐसे में कोरोना अनुकूल व्यवहार के लिए सख्ती जरूरी है। संक्रमितों की देखभाल में कोई चूक ना हो। उनके संपर्क में रहें तथा सभी स्थितियों पर सघन  निगरानी रखी जाए। समय रहते आवश्यक प्रबंधन किया जाए। जिला कलेक्टर ने कहा कि कहीं भी भीड़ की स्थिति ना बने इस पर निगरानी रखें।राज्य सरकार की गाइडलाइन के अनुसार एक से कक्षा नवीं तक विद्यालय एवं कोचिंग कक्षाएं बंद रहें, यह सुनिश्चित किया जाए। जिले के सभी क्षेत्रों में सरकारी या अन्य कार्मिकों के दैनिक अप डाउन को प्रतिबंधित किया जाए। सभी उपखंड अधिकारी को एंटी कोविड टीम तथा जॉइंट एनफोर्समेंट टीम को एक्टिवेट कर कोविड स्थितिओं का प्रभावी नियंत्रण एवं प्रबंधन करें।




टीकाकरण को गति दें
जिला कलेक्टर ने उपखंड अधिकारियों को निर्देश दिए कि अपने-अपने क्षेत्रों में टीकाकरण को गति दें।लोगों को समझाया जाए कि टीकाकरण ही बचाव है। क्योंकि अब तक संक्रमित हुए या कोरोना से गंभीर स्थिति में आए लोग वही हैं जिनका टीकाकरण  नहीं हुआ है।विभिन्न टीकाकरण केंद्रों की नियमित मॉनिटरिंग करें तथा जहां कम टीकाकरण है उन केंद्रों को आवश्यकता वाले अन्य स्थानों पर  शुरू किया जाए। सुविधा अनुसार समय में भी परिवर्तन कर सकते हैं।




चालान बनाएं, प्रतिष्ठानों सीज करें
जिला पुलिस अधीक्षक शिवराज मीना ने कहा कि बिना मास्क मिलने वाले लोगों तथा ऐसे प्रतिष्ठानों पर जहां बिना मास्क लोग हों तथा सोशल डिस्टेसिंग की पालना नहीं हो, उन्हें सीज करें। हर थाना क्षेत्र में चालान बनें। विवाह आदि समारोहों में सीमित संख्या के लिए पाबंद करें। स्विमिंग पूल, थियेटर, जिम आदि बंद कराएं। उल्लंघन पर महामारी अधिनियम में कार्रवाई करें।
मास्क ठीक से पहनना बेहद जरूरी
मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ. महेन्द्र त्रिपाठी ने कहा कि दूसरी लहर कई गुणा घातक है। मास्क अनिवार्यतः लगाएं और इस तरह कि नाक व मुंह दोनों ढंके हों। टीकाकरण ही बचाव का रास्ता है। जितनी जल्दी टीका लगावाएं, उतनी ही जल्दी प्रतिरोधक क्षमता बढ़ेगी। एक बार संक्रमित होने पर नेगेटिव रिपोर्ट आने के भी निर्धारित समय बाद ही टीकाकरण किया जा सकता। वीसी मंे अतिरिक्त कलेक्टर एयू खान, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक किशोरी लाल, जिला रसद अधिकारी सुरेंद्र सिंह, नगर परिषद आयुक्त महावीर सिंह, मुख्य जिला शिक्षा अधिकारी योगेश शर्मा एवं अन्य मौजूद रहे।