कोविड-19 की गाइडलाइन का जिलो में पालन सुनिश्चित करावे- कमिश्नर

श्योपुर.Desk/ @www.rubarunews.com>>ग्वालियर-चंबल संभाग के कमिश्नर आशीष सक्सेना(Commissioner Ashish Saxena) ने कहा है कि शासन द्वारा निर्धारित की गई कोविड-19 की गाइडलाइन का जिलो में पालन सुनिश्चित करावे। साथ ही फ्रंट लाइन वर्कर एवं हेल्थ केयर वर्कस को कोविड टीका का दूसरा डोज जिलो में शत प्रतिशत लगवाने की व्यवस्था सुनिश्चित करें। वे आज आज गूगल मीट के माध्यम से चंबल संभाग कें जिलों के अंतर्गत शासन की कल्याणकारी योजनाओं एवं कोविड-19 की समीक्षा के दौरान जिला कलेक्टर्स को दिशा-निर्देश दे रहे थे।
संभागायुक्त आशीष सक्सेना(Commissioner Ashish Saxena) ने कहा कि नोवल कोरोना वारयस कोविड-19 के केसों में बढोत्तरी को दृष्टिगत रखते हुए संक्रमण फैलने से रोकने के लिए शासन द्वारा निर्धारित गाईडलाइन(Guide line) का पालन संभाग के सभी जिलो में सुनिश्चित करावे। उन्होने कहा कि कोविड-19 से बचने के लिए आईसोलेशन वार्ड की पूर्व की भांति ही व्यवस्था की जावे। साथ ही पूर्व की भांति ही मरीजो के लिए आईसोलेशन वार्ड निर्धारित किये जावे। उन्होने कहा कि कोविड-19 टीका का दूसरा डोज फ्रंटलाइन वर्कर एवं हेल्थवर्कस को दिया जा रहा है। सभी हेल्थकेयर वर्कर(Healthcare worker) यह डोज लगवना सुनिश्चित करें। टीके के दूसरे डोज के बाद भी ईम्यूनिटी(Immunity) जब तक डवलप नही हो जाती है, तब तक सभी हेल्थकेयर वर्कर मास्क, पीपीई किट का उपयोग करें। साथ ही 45 से 59 वर्ष एवं 60 से अधिक उम्र के व्यक्तियों को भी कोविड टीका लगाने के लिए जिले, खण्ड के साथ-साथ ग्राम स्तर पर भी प्रेरित करें।
कमिश्नर श्री सक्सेना ने कहा कि 29 मार्च को होली का त्यौहार कोविड-19 की गाइडलाइन के पालन के साथ नागरिक अपने घरो में ही होली मनावे। उन्होने कहा कि कोविड टीकाकरण के डाटा की पोर्टल पर लगातार एन्ट्री की जावे। साथ ही कोविड टीकाकरण का कार्य जिला अस्पताल, सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र एवं प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र के साथ-साथ उप स्वास्थ्य केन्द्रो पर भी कोविड-19 का टीका लगाने की सुविधा नागरिको को प्रदान की जावे। उन्होने कहा कि जिलो में रोको-टोको अभियान से नागरिको को मास्क लगाने, सोशल डिस्टेसिंग का पालन करने की समझाइश दी जावे। इसी प्रकार उन्होने आयुष्मान भारत निरामयम् योजना(Ayushman Bharat Niramayam Yojana) के अंतर्गत जिलों आयुष्मान कार्ड बनाने के लिए दिये गये लक्ष्यों की समीक्षा की। साथ ही उन्होने इस लक्ष्य को समय सीमा में पूर्ण करने के निर्देश दिये।
इसी प्रकार पीएचई विभाग की समीक्षा करते हुए कहा कि जिलो में संचालित नलजल योजनाओं(Tap water schemes) के सुचारू रखने के निर्देश दिये। साथ ही उन्होने कहा कि आगामी ग्रीष्मकाल के मद्देनजर शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रो में पेयजल की समस्या उत्पन्न ना हो इसके लिए कार्य योजना तैयार की जावे। हैण्डपम्प संधारण एवं डकबैल का कार्य सहित सिंगल फेस मोटरपम्प डालने के कार्य की जिलो से जानकारी प्राप्त की। इसी प्रकार उपार्जन कार्य की समीक्षा करते हुए कहा कि किसानों को खरीदी केन्द्रो पर किसी प्रकार की कठिनाई ना आये। इसके लिए खरीदी कार्य से संबंधित अधिकारी उपार्जन केन्द्रो पर मूलभूत व्यवस्था सुनिश्चित करें। कमिश्नर ने मनरेगा योजना अंतर्गत वित्तीय प्रगति, मध्यान्ह भोजन, किचिन निर्माण, स्वच्छ भारत मिशन, पथ विक्रेता योजना में हितग्राहियों को लाभ वितरण, विधुत बिल भुगतान, सीएम हेल्पलाइन सहित अन्य विषयों की समीक्षा की।
कलेक्टर ने दी जिले की जानकारी
कमिश्नर श्री आशीष सक्सेना की अध्यक्षता में आयोजित गूगल मीट में कलेक्टर  राकेश कुमार श्रीवास्तव ने बताया कि श्योपुर जिले में नोवल कोरोना वायरस कोविड-19 के अतंर्गत पूर्व की भांति 500 बिस्तरीय आइसोलशन वार्ड की व्यवस्था रखी गई है। इसके अलावा जिला चिकित्सालय में 34 ऑक्सीजनयुक्त बेड एवं 10 बेड आईसीयू में है। आईसोलेशन के पर्याप्त इंतजाम किये जा चुके है। वर्तमान में जिला चिकित्सालयों में कोविड-19 से संक्रमित एक ही मरीज है। जिले में कोविड मरीज की कान्ट्रेक्ट हिस्ट्री निकालने का कार्य भी किया जा रहा है। इसके अलावा जिले में कोविड टीकाकरण का कार्य भी जिला चिकित्सालय के साथ सीएससी, पीएससी एवं उप स्वास्थ्य केन्द्र पर किया जा रहा है। जिले में उप स्वास्थ्य केन्द्रो को भी टीका लगाने के लिए ही संचालित कर दिया गया है। वर्तमान में 24 उप स्वास्थ्य केन्द्र संचालित है। टीका लगने वाले नागरिकों के डाटा को भी पोर्टल पर प्रतिदिन दर्ज करने की कार्यवाही की जा रही है।
कलेक्टर ने बताया कि अभी तक कोरोना टीका का दूसरा डोज 60-70 प्रतिशत फ्रंटलाइन वर्कर एवं हेल्थकेयर वर्कर को लगाया जा चुका है। साथ ही शेष को भी समय पर टीके के दूसरा डोज की लगाने की कार्यवाही को अंजाम दिया जा रहा है। जिला एवं विकासखण्ड स्तर पर रोको-टोको अभियान प्रतिदिन अधिकारियों के गठित दल द्वारा बिना मास्क वालो पर जुर्मान कर मास्क लगाने की समझाइश दी जा रही है। उन्होने कहा कि जिलेभर में आयुष्मान भारत निरामयम योजना में विकासखण्ड स्तर पर शिविरों के माध्यम से हितग्राहियों के आयुष्मान कार्ड बनाने की कार्यवाही प्रतिदिन की जा रही है। इसी प्रकार उन्होने बताया कि होली का त्यौहार इस वर्ष कोविड-19 की गाईडलाइन के अनुसार घर में ही रहकर (हमाओ घर-हमाई होरी) की थीम पर मनाई जावेगी।
इसी प्रकार नलजल योजना(Tap water schemes) के संबंध में जानकारी देते हुए कहा कि जिले में कुल 209 नलजल योजना स्थापित है। उनमें से 192 चालू है। इसके अलावा 17 नलजल योजना बंद है। इन 17 नलजल योजना में से 02 नलजल योजना के पाईप क्षतिग्रस्त है, 02 में मोटर खराब है एवं 13 के जल स्त्रोत सूख गये है। इन सभी बंद 17 नलजल योजनाओं को शीघ्र चालू कराने की कार्यवाही को अंजाम दिया जा रहा है। कलेक्टर ने उपार्जन कार्य की जानकारी देते हुए कहा कि जिले में चना, सरसो एवं मसूर के लिए 22 खरीद केन्द्र तथा गेहूं के लिए 41 खरीद केन्द्र निर्धारित किये गये है। इन सभी खरीद केन्द्रो पर खरीदी कार्य के लिए समुचित प्रबंध किये जा चुके है। इन खरीदी केन्द्रो में 11 खरीदी केन्द्रो पर स्वसहायता समूहों द्वारा खरीदी कार्य किया जावेगा। एक खरीदी केन्द्र पर एफपीओं भी खरीदी का कार्य करेगा। श्योपुर जिले में स्वसहायता समूहों द्वारा बच्चो के गणवेश बनाने का कार्य लगभग 90 प्रतिशत पूर्ण किया जा चुका है। इसके अलावा पथ विक्रेता योजना के हितग्राहियो को लक्ष्य के अनुसार 82 प्रतिशत वितरण किया जा चुका है। शेष का निर्धारित लक्ष्य अनुसार वितरण की कार्यवाही जारी है। इसी प्रकार कलेक्टर ने मनरेगा योजना अंतर्गत वित्तीय प्रगति, मध्यान्ह भोजन, किचिन निर्माण, स्वच्छ भारत मिशन, पथ विक्रेता योजना में हितग्राहियों को लाभ वितरण, विधुत बिल भुगतान, सीएम हेल्पलाइन की जानकारी से अवगत कराया।

गूगट मीट के दौरान कलेक्टर राकेश कुमार श्रीवास्तव, पुलिस अधीक्षक सम्पत उपाध्याय, अपर कलेक्टर  रूपेश उपाध्याय, एसीईओ जिला पंचायत  सुधीर खाडेकर, सीएमएचओ डॉ बीएल यादव, उपसंचालक कृषि  पी गुजरे, उपसंचाकल पशुपालन डॉ आरएस सिकरवार, एआरसीएस  रविन्द्र कुमार शर्मा, कार्यपालन यंत्री जल संसाधन  सुभाष गुप्ता, डीएमओ  मनीष नागौर, सहायक संचालक मत्स्य  बीपी झसिया, डीपीएम आजीविका मिशन  सोहनकृष्ण मुदगल, सीएमओ नपा सुश्री मिनी अग्रवाल, पीओ जिला पंचायत  विक्रम सिंज जाट एवं अन्य विभागीय अधिकारी उपस्थित थे।