निःशुल्क हार्ट सर्जरी के मासूम बच्चो से मिले सीएमएचओ, जानी कुशलक्षेम CMHO met innocent children for free heart surgery, Jani Kushalkshem

बूंदी.KrishnakantRathore/ @www.rubarunews.com>> मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना में पंजीकृत हार्ट की गंभीर बीमारी से पीड़ित बच्चों मुफ्त हार्ट सर्जरी होने के बाद सीएमएचओ डॉ. ओ. पी. सामर ने बच्चों और परिजनों से मुलाकात कर उनके स्वास्थ्य की जानकारी ली। उनसे योजना के तहत हुए निःशुल्क ऑपरेशन एवम स्वास्थ्य सुविधाओं के बारे में जानकारी ली। साथ ही उन्हें अस्पताल से सम्बंधित किसी भी समस्या से अवगत कराने और समाधान पाने के लिए आश्वस्त भी किया। गौरतलब हैं कि बूंदी जिले के नैनवा उपखंड के नाहरगंज गांव की 3 वर्षीय कविता और जरखोदा गांव के 4 वर्षीय आयुष जन्मजात दिल की बीमारी से ग्रसित थें। भारत विकास परिषद हॉस्पिटल में मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना और राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम के माध्यम से दोनों बच्चों का सफल ऑपरेशन करवाया गया था। डॉ. सामर ने बताया कि चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना इन बच्चो के लिए वरदान साबित हुई है, चिकित्सा एवम् स्वास्थ्य विभाग बूंदी के अथक प्रयासों से कविता और आयुष को ह््रदय रोग से मुक्ति मिली है। सीएमएचओ डॉ. ओ. पी. सामर ने आमजन से चिरंजीवी योजना से आर्थिक रूप से कमजोर परिवारों को 31 जनवरी तक ज्यादा से ज्यादा लोग पंजीयन करवाने की अपील भी की।

निःशुल्क हार्ट सर्जरी के मासूम बच्चो से मिले सीएमएचओ, जानी कुशलक्षेम CMHO met innocent children for free heart surgery, Jani Kushalkshem

चिरंजीवी योजना में 31 जनवरी तक रजिस्ट्रेशन होने पर मिलेगा 1 फरवरी से लाभ
मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना के तहत सरकार ने आमजन को बड़ी राहत देते हुए 31 जनवरी के पहले रजिस्ट्रेशन होने पर योजना का लाभ 1 फरवरी से देने का आदेश दिया है। सीएमएचओ डॉ. ओ. पी. सामर ने बताया कि 31 जनवरी के बाद रजिस्ट्रेशन होने पर लाभार्थी 1मई से योजना से जुड़ पाएंगे। डॉ. सामर ने बताया कि योजना से बूंदी जिले में 4 निजी व 18 सरकारी अस्पताल जुड़े हुए हैं। योजना से जुड़ने वाले को दस लाख तक का निशुल्क इलाज मिलता है, वहीं दुर्घटना में परिवार में किसी सदस्य का निधन हो जाने पर सरकार की ओर से पांच लाख की राशि दी जाती है। योजना से जुड़ने के लिए ईमित्र या स्वयं की एसएसओ आईडी से भी जुडा जा सकता है।