सीईओ ने की पंचायतीराज योजनाओं की समीक्षा योजनाओं के प्रभारी अधिकारियों को प्रभावी मोनिटरिंग करने के दिए निर्देश

बूंदी.KrishnakantRathore/ @www.rubarunews.com- जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी श्री मुरलीधर प्रतिहार ने जिला परिषद स्थित कक्ष में सोमवार को ग्रामीण विकास एवं पंचायतीराज योजनाओं में प्रगति की समीक्षा की तथा योजनाओं के प्रभारी अधिकारियों को प्रगति लाने के निर्देश दिए।

 

उन्होंने निर्देश दिए कि महात्मा गांधी नरेगा योजना के तहत वर्ष 2019-20 तक के समस्त कार्यो को 15 अगस्त तक पूर्ण करवाने की कार्यवाही की जावे। खेल मैदान, अनाज भण्डार व आंगनबाड़ी भवनों का निरीक्षण कर वर्तमान स्थिती की जांच रिपोर्ट तैयार कर प्रस्तुत की जावे। पूर्ण कार्यो को संबंधित विभाग को स्थानान्तरित करने की कार्यवाही की जावे। महिला एवं बाल विकास विभाग के किचन गार्डन स्वीकृती की लिए प्रस्ताव मंगवाये जावे।

 

प्रधानमंत्री आवास योजना प्लस के विभागीय प्रावधानों की विस्तृत जानकारी लाभार्थियों को उपलब्ध करवाये जाने के लिए विस्तृत आईईसी गतिविधियां आयोजित की जावे। विधायक कोष के तहत संबंधित विभागों को जारी राशि के उपयोगिता एवं पूर्णता प्रमाण पत्र प्राप्त कर व्यय राशि का समायोजन करवाये। जिला स्तरीय प्रोटोटाईप आवास निर्माण के लिए आवश्यक कार्यवाही की जावे। वर्तमान में वर्षाकाल के दौरान अधिकाधिक पौधारोपण करवाया जावे। सभी विभाग पौधारोपण में अपनी सहभागिता सुनिश्चित करे।

 

सीईओ प्रतिहार ने जिला कार्यालय के सुचारू संचालन के लिए विभिन्न कमेटियों का गठन करते हुए कार्य आवंटन किया तथा पाक्षिक प्रगति से अवगत करवाने के निर्देश दिए। लेखा संबंधी ऑडिट पेराओं का समय पर निस्तारण सहित जांच प्रकरणों का समय पर निस्तारण करने के निर्देश दिए। उन्होंने माडा, एसबीएम सहित अन्य योजनाओं की भी समीक्षा की।

इस दौरान वॉटरशेड एसई सी.एल. सालवी, नरेगा एक्सईएन प्रियव्रत सिंह, इंजिनियरिंग एक्सईएन जितेन्द्र कुमार न्याती, जल संसाधन एक्सईएन छगेन्द्र कुमार कुसुम, लेखाधिकारी पंचायतीराज शिव कुमार शर्मा, नरेगा के रामनारायण मीणा, आंतरिक अंकेक्षण के चन्द्र प्रकाश राव, एईएन सीडी हितेन्द्र कुमार मेहरा आदि मौजूद रहे।