बूंदी परिंदा महोत्सव‘ में विद्यार्थियों ने जाना पक्षियों व प्रकृति का महत्व

बूंदी.KrishnaKantRathore/@www.rubarunews.com- जिले की नीम का खेड़ा पंचायत के अभयपुरा बांध पर गुरूवार को वन विभाग की ओर से बूंदी परिंदा महोत्सव का आयोजन किया गया। पक्षी मेले में विद्यार्थियों ने पक्षियों को नजदीक से देखा तथा विभिन्न प्रवासी व स्थानीय पक्षियों के बारे में विशेषज्ञों से जानकारी प्राप्त की। पक्षी मेले में विद्यार्थियों के लिए प्रवासी पक्षी विषय पर चित्रकला प्रतियोगिता भी आयोजित की गई जिसमें राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय गुढ़ानाथावतान व राजकीय उच्च प्राथमिक विद्यालय मेघारावत की झोंपड़ियां के विद्यार्थियों ने भाग लिया। इस दौरान सभी ने बांध के किनारे बने पक्षी दर्शन वाच टावर से दूरबीन के माध्यम से पक्षियों को देखा। कार्यक्रम में नीम का खेड़ा सरपंच भोपाल सिंह चौहान, सहायक वन संरक्षक चंद्रमोहन गुप्ता, स्काउट सीईओ गिरिराज गर्ग, भीमलत महादेव विकास समिति सचिव कैलाश पांचाल, विट्ठल सनाढ्य व वन सुरक्षा समिति के सदस्य उपस्थित थे।
भीमलत-अभयपुरा में ईको-पर्यटन होगा विकसित
अभयपुरा बांध पर आयोजित पक्षी मेले में पक्षी एवं पर्यावरण संरक्षण पर विद्यार्थियों व ग्रामीणों के लिए जागरूकता वार्ता का आयेजन किया गया। वार्ता में बूंदी के उपखंड अधिकारी कमल कुमार मीणा ने बूंदी की जैव-विविधता को श्रेष्ठ बताते हुए यहां ईको-टूरिज्म की प्रबल संभावनाएं बताई। उन्होने ग्रामीणों से वन, वन्यजीवों व पक्षियों का संरक्षण कर पर्यावरण बचाने की अपील की। इस दौरान उपवन संरक्षक सुरेश मिश्रा ने कहा कि भीमलत की प्राकृतिक वैली को इको-टूरिज्म केंद्र के रूप में तथा अभयपुरा बांध को पक्षियों के लिए संरक्षित क्षेत्र घोषित करवाने से क्षेत्र में रोजगार के अवसर बढेंगे। पूर्व मानद वन्यजीव प्रतिपालक पृथ्वी सिंह राजावत ने भीलवाड़ा व बूंदी जिले में विस्तृत सीता कुंड, भाला कुई, खण्डेरियां व कालदां वन क्षेत्र एवं यहां की समृद्ध जैव-विविधता व प्रवासी पक्षियों की चित्रों के माध्यम से जानकारी दी। वार्ता में इंटेक से जुड़े विजयराज सिंह हाडा व राजकुमार दाधीच ने भी विचार व्यक्त किए।
पक्षी विशेषज्ञों ने बूंदी को बताया उत्तम आश्रयस्थल अभयपुरा बांध पर आयोजित पक्षी मेले में कोटा के पूर्व मानद वन्यजीव प्रतिपालक रविंद्र सिंह तोमर, बूंदी के पृथ्वी सिंह राजावत, नेचर प्रमोटर ए.एच. जैदी, जल बिरादरी के ब्रजेश विजयवर्गीय, मनीष आर्य, बनवारी यदुवंशी, उर्वशी, राजेंद्र माहेश्वरी, सोमेन्द्र शर्मा , सोनू सहित कई पक्षी विशेषज्ञों ने बच्चों को पक्षियों की पहचान व उनसे जुड़ी रौचक जानकारियां दी। बाद में सभी पक्षी प्रेमियों ने भीमलत घाटी का भ्रमण कर गिद्धों की कालोनी तथा रॉक पेंटिंग देखी !

Umesh Saxena

I am the chief editor of rubarunews.com