महिलाएं भयमुक्त होकर स्वयं को सशक्त बनाएं

बून्दी.KrishnaKantRathore/ @www.rubarunews.com-  राष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर शनिवार को महिला अधिकारिता विभाग द्वारा स्काउट गाइड भवन बूंदी पर भव्य समारोह का आयोजन किया गया। इस अवसर पर जिला प्रमुख चंद्रावती कंवर मुख्य अतिथि थी, समारोह की अध्यक्षता समाजसेवी व लेखिका राधामोहन शर्मा ने की। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक किशोरी लाल मीणा, जनसम्पर्क अधिकारी रचना शर्मा, महिला थानाधिकारी अंजना नोगिया, मांड गायिका उषा शर्मा, परिवहन निरीक्षक वर्षा गोयल व अध्यापिका शशिकला बागला विशिष्ट अतिथि रहे। समारोह में विषम परिस्थितियों से जूझने वाली तथा विशिष्ट महिलाओं, बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ के लोकल चैंपियन व एक दिया बेटी के नाम अंतर्राष्ट्रीय सेल्फी प्रतियोगिता के विजेताओं को पुरष्कृत किया गया। इस अवसर पर मुख्य अतिथि पद से बोलते हुए जिला प्रमुख कंवर ने कहा कि महिलाओं को समुचित संबलन मिले, यह समय की महती आवश्यकता है इसके लिए बेहद जरूरी है कि महिलाएं भय मुक्त हो स्वयं को पहचाने व स्वयं को सशक्त बनाएं। उन्होंने बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ की शपथ दिलाते हुए महिलाओं का आवाहन किया कि वे स्वयं भी दूसरी महिला के सशक्तीकरण में सहयोगी बनकर उन्हें आगे बढ़ाने में सहभागी बने। अध्यक्षीय उद्बोधन में जीवन के चौहत्तर बसन्त देख चुकी एकल पुत्री सन्तान रही आध्यात्मिक लेखिका व समाजसेवी राधामोहन शर्मा ने कहा कि महिला शक्ति का जागृत होना बहुत जरूरी है आवश्यकता इस बात की है कि वे विचारों के बंधनों से मुक्त हो तथा जागृति के पंखों के साथ उपलब्धियों का सृजन करें। आयोजन में मंच पर सशक्त महिलाओं व विशिष्ट महिलाओं की जीवनी पर डॉक्यूमेंट्री का जीवंत प्रस्तुतिकरण किया गया।

इससे पूर्व जिला प्रमुख चंद्रावती कंवर ने दीप प्रज्वलन कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया। स्वागत उद्बोधन के द्वारा सहायक निदेशक भेरू प्रकाश नागर ने अतिथियों का अभिनंदन किया व विभाग की महिला सशक्तकरन की दिशा में उपलब्धियों की जानकारी दी। आशवी तोतला ग्रुप के भव्य शास्त्रीय नृत्य व बालिका स्नेहल द्वारा रंगारंग कालबेलिया नृत्य की प्रस्तुतियों ने दर्शकों का मन मोह लिया। विभाग के सुपरवाइजर जयसिंह द्वारा जिले की विभागीय योजनाओं का प्रतिवेदन प्रस्तुत किया गया तथा हिंडोली ब्लॉक सुपरवाइजर सीमा सोयल ने राष्ट्रीय महिला दिवस के इतिहास व थीम की जानकारी दी। उमंग संस्थान बूंदी के सहयोग से आयोजित बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ एक दिया बेटी के नाम अंतरराष्ट्रीय सेल्फी प्रतियोगिता के विजेताओं को अतिथियों ने पुरस्कारों से नवाजा। प्रतियोगिता की आयोजन समिति अध्यक्ष सविता लौरी, सचिव कृष्णकांत राठौर, समन्वयक सर्वेश तिवारी, संयोजक नमिता जिंदल व प्रमोद श्रृंगी, निर्णायक अनुराधा जैन व नन्द प्रकाश ‘नन्जी’ को सम्मानित किया गया। कार्यक्रम का संचालन मोना शर्मा ने किया व आभार विभाग के रविराज मिश्रण ने किया।

इनका किया अभिनंदन

महिला अधिकारिता विभाग द्वारा राष्ट्रीय

महिला दिवस के अवसर पर आयोजित जिला स्तरीय समारोह में महिला सशक्तिकरण के क्षेत्र में उल्लेखनीय कार्य करने वाली वरिष्ठ नागरिक लेखिका व समाजसेवी राधा मोहन शर्मा, अंतर्राष्ट्रीय मंच पर मांड गायन के क्षेत्र में नाम रोशन करने वाली उषा शर्मा, विषमतम परिस्थितियों से जूझकर विश्वविद्यालय स्तर पर सर्वोच्च स्वर्ण पदक प्राप्तकर्ता रीना जायसवाल, शैक्षणिक व आर्थिक स्वावलंबन प्राप्त करने वाली अध्यापिका शशिकला बागला व परिवहन निरीक्षक वर्षा गोयल को शॉल, प्रशस्ति पत्र व मेंडल भेंटकर अभिनन्दन किया।

 

ये बने लोकल चैंपियन

भारत सरकार द्वारा संचालित बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना अंतर्गत कोविड 19 महामारी के समय में श्याणी बुआ प्रोजेक्ट के सफल संचालन के साथ बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ संदेश की व्यापक जन चेतना हेतु समन्वयक सर्वेश तिवारी तथा सहयोगी रेंजर प्राची शर्मा को अतिथियों ने बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ लॉकल चैंपियन सम्मान प्रशस्ति पत्र, स्वर्ण पदक व स्मृति चिन्ह प्रदान कर सम्मानित किया ।

आयोजन में उमंग संस्थान, श्री नारायण सेवा संस्थान, सखी वन स्टॉप सेंटर, महिला सुरक्षा सलाह केंद्र, महिला शक्ति केंद्र, हिमाद्री रेंजर टीम, आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं, साथिनों सहित, महारानी व विकास नगर बालिका विद्यालय तथा उच्च माध्यमिक विद्यालय बूंदी की गाइड व रेंजर्स, विजेताओं व अधिकारिता विभाग के पदाधिकारियों ने सहभागिता की।