घर में नहीं बचा कमाने वाला, मदद को आगे आए लोकसभा अध्यक्ष

कोटा.KrishnakantRathore/ @www.rubarunews.com- कोरोना तथा अन्य कारणों से घर के कमाने वाले सदस्य को खो चुके चार परिवारों की मदद को लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला आगे आए हैं। लोकसभा अध्यक्ष बिरला ने इन परिवारों की महिलाओं को 1.60 लाख रूपए की आर्थिक सहायता दी है।

 

कैथूनीपोल निवासी राजेंद्र राठौर की करीब पांच माह पूर्व उत्तर प्रदेश के उरई में सड़क दुर्घटना में मृत्यू हो गई थी। इसके बाद से उनकी पत्नी पिंकी राठौर छोटा-मोटा काम कर किसी तरह अपनी पांच बेटियों और 1 बेटे को पाल रही थीं। लाॅकडाउन के दौरान वे काम भी बंद होने से परिवार संकट में आ गया। ऐसी परिस्थिति में उसकी बेटियां लाॅकडाउन में सड़क किनारे रहने वाले लोगों को चाय बेचकर घर चलाने का प्रयास कर रही थीं। इसकी जानकारी मिलने पर लोकसभा अध्यक्ष बिरला ने पिंकी राठौर को 50 हजार रूपए की आर्थिक सहायता की घोषण की थी।

 

इसी तरह दादाबाड़ी निवासी छाया भार्गव के पति वीरेंद्र भार्गव तथा ससुर महेंद्र प्रकाश भार्गव की भी अचानक तबीयत बिगड़ने से मृत्यु हो गई थी। इस कारण परिवार आर्थिक परेशानी में आ गया था। लोकसभा अध्यक्ष ने इस परिवार की सहायता के लिए भी 50 हजार रूपए की सहायता की घोषणा की थी।
गणेशपुरा, इटावा निवासी हरिशंकर सेन का गांव में भी छोटा सा सैलून था। गत 1 मई को कोरोना संक्रमण हुआ और उनकी हालत बिगड़ती चली गई। उनका कोटा स्थित एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां 4 मई को उनका निधन हो गया। परिवार में अब उनकी पत्नी हेमलता सेन हैं जिन पर 3 बेटियों और 2 बेटों के लालन-पालन की जिम्मेदारी है। लोकसभा अध्यक्ष बिरला ने उनको भी 30 हजार रूपए की मदद की घोषण की थी।

मोरपा के समीप स्थित धनसूरी गांव निवासी दीनानाथ कुछ दिनों पहले कोटा की भामाशाह मंडी में लहसुन बेचने आया था। मंडी में ही उसकर तबीयत बिगड़ी और कुछ ही देर में उनकी मृत्यु हो गई। बिरला ने उनकी पत्नी राजेश बाई के लिए भी 30 हजार रूपए की घोषणा की थी।

लोकसभा अध्यक्ष बिरला की घोषणा के अनुरूप चारों महिलाओं के बैंक खातों में गुरूवार को रकम आॅनलाइन ट्रांसफर कर दी गई। लोकसभा अध्यक्ष बिरला ने कहा कि कोटा-बूंदी संसदीय क्षेत्र के लेाग उनका परिवार हैं। यदि कोई परिवार पीड़ा में है तो उसकी मदद करना हमारा दायित्व है। कोरोना ने बहुत से परिवारों को दर्द दिया है, हम उनकी परेशानियों को भी कम करने का प्रयास करेंगे।