अंतर्निहित गुणों को विकसित करती है स्काउटिंग-जिला प्रमुख

बून्दी.KrishnakantRathore/ @www.rubarunews.com-भारत स्काउट गाइड स्थानीय संघ देई का तीन दिवसीय तृतीय सौपान स्काउट गाइड जांच शिविर शनिवार को पिपल्या राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय में प्रारंभ हुआ। शिविर के उद्घाटन समारोह में जिला प्रमुख चंद्रावती कवर मुख्य अतिथि रही। अध्यक्षता प्रभारी सहायक जिला कमिश्नर प्रधानाचार्य देई महेश कुमार मीणा ने की। समारोह में स्काउट संस्था देइ के प्रधान रामपाल गोयल सरपंच विनोद जैन प्रधानाचार्य अनुराधा वर्मा विशिष्ट अतिथि रहे। मुख्य अतिथि पद से संबोधित करते हुए जिला प्रमुख कंवर ने कहा कि स्काउटिंग गाइडिंग जीवन विकास की एक शैली है जिसके द्वारा भावी पीढ़ी को ऊर्जावान सफल नागरिक के रूप में विकसित किया जाता है साथ ही उसके अंतर्निहित गुणों को विकसित करने का कार्य भी स्काउटिंग करती है। स्काउट प्रार्थना के अभ्यास द्वारा जिला प्रमुख ने नई पीढ़ी का आवाहन किया कि वे स्काउट प्रशिक्षण के द्वारा दक्ष होकर सेवाभावी व कर्तव्यनिष्ठ बने। इस अवसर पर जिला प्रमुख ने विद्यालय में प्रार्थना सभा स्थल हेतु दस लाख रुपये एवं जल मंदिर हेतु दो लाख रुपये की घोषणा की।

स्काउट प्रार्थना के साथ शुरू हुए कार्यक्रम में सचिव मेघराज शर्मा ने शिविर का प्रतिवेदन प्रस्तुत किया। प्रभारी सहायक जिला कमिश्नर महेश मारग ने अतिथियों का स्वागत उद्बोधन से अभिनंदन किया। प्रधान गोयल ने देई स्थानीय संघ की उपलब्धियों की जानकारी दी। भामाशाह सरपंच विनोद जैन ने शिविर के संभागी विद्यार्थियों को भोजन उपलब्ध करवाने की घोषणा की। सियाराम साहू के नेतृत्व में रेंजर राजकिरण ट्रेनिंग काउंसलर नगेंद्र सनाढ्य नीरज कुमार शर्मा ने आगंतुकों का गार्ड ऑफ ऑनर के साथ स्कार्फ व साफा पहनाकर अभिनंदन किया।

संस्था प्रधान अनुराधा वर्मा ने आभार प्रकट किया कार्यक्रम का संचालन पूर्व डिस्ट्रिक्ट ट्रेनिंग कमिश्नर सर्वेश तिवारी ने किया। इससे पूर्व शिविर स्थल पर स्काउट गाइड प्रार्थना झंडा गीत के साथ ध्वजारोहण कार्यक्रम आयोजित किया गया। शिविर में आसपास के क्षेत्रों के 185 स्काउट गाइड भाग ले रहे हैं जिनको सफलतापूर्वक जांच पूर्ण करने पर तृतीय सोपान प्रमाण पत्र प्रदान किया जाएगा।