न्यायपालिका पर भारी पड़ रही है कार्यपालिका- सिंह

बूंदी.KrishnakantRathore/ @www.rubarunews.com- कायन हाउस निर्माण व गौशाला भूमि को अतिक्रमण मुक्त कराने को लेकर गोपाल गौ सेवा संस्थान द्वारा संतों व गौसेवकों का श तेरहवें दिन भी धरना जारी रहा।
धरने के दौरान दुर्घटनाग्रस्त व बीमार गोवंश के आश्रय के लिए संस्था के वरिष्ठ सदस्य आनंद सिंह सिसोदिया ने कहा कि कार्यपालिका न्यायपालिका पर भारी पड़ रही है इसलिए हाईकोर्ट के आदेशों को भी ठेंगा दिखा रहा है, जिला प्रशासन। राजनैतिक दबाव के आगे जिला प्रशासन हाथ बांधे खडा हैं। धरने को 13 दिवस बीत जाने के उपरान्त भी जिला प्रशासन चुप्पी साधे हुए हैं।
उन्होंने बताया कि जब तक कुम्भकर्णी नींद से नहीं जगेगा जिला प्रशासन एवं हाईकोर्ट के आदेशों की पालना होकर बेसहारा गोवंश के लिए कायन हाउस निर्माण व गौशाला भूमि से अतिक्रमण मुक्त नहीं किया जाता तब तक उग्र धरना विरोध प्रदर्शन अनिश्चितकाल के लिए जारी रहेगा।
धरने के दौरान संत राम लखन दास, संत भगवान दास, संत बनवारीदास एवं गोसेवक गोपाल माहेश्वरी, लोकतंत्र गुर्जर, प्रहलाद मीणा, विहिप के पूर्व जिलाध्यक्ष नंद सिंह सोलंकी व लक्ष्मीनारायण श्रंगी तथा कुलदीप चौधरी, गिरिराज गुर्जर, राम बाबू श्रंगी, भवानी शंकर, ओम मेघवाल, सोनू गुर्जर, रमेश सैनी, राजेंद्र सिंह, मनोज प्रजापत, मधुसूदन यादव, शिवराज गुर्जर आदि बड़ी संख्या में गौ सेवक मौजूद रहे।