मप्र मातृत्व स्वास्थ्य हकदारी अभियान एवं जिला बाल अधिकार मंच की जिला स्तरीय समन्वय समिति की समीक्षा बैठक सम्पन्न

मप्र मातृत्व स्वास्थ्य हकदारी अभियान एवं जिला बाल अधिकार मंच की जिला स्तरीय समन्वय समिति की समीक्षा बैठक सम्पन्न

टीकाकरण समुचित जानकारी देकर स्वैच्छिक टीकाकरण हेतु प्रेरित करें- रामजीशरण राय

मध्यान्ह भोजन व पोषण आहार की उपलब्धता नियमित सुनिश्चित हो- पुष्पा गुगौरिया

 

दतिया @rubarunews.com>>>>>>>>>> मप्र मातृत्व स्वास्थ्य हकदारी अभियान (MHRC MP) एवं जिला बाल अधिकार मंच (DCRF) की जिला स्तरीय समन्वय समिति की समीक्षा बैठक का आयोजन ऑनलाइन वेबीनार के माध्यम से किया गया। आयोजित वेविनार में अध्यक्षता समाजसेवी श्रीमती उमा नौगरैया व साहित्यकार वीरेंद्र शर्मा द्वारा संयुक्त रूप से की गई।

आयोजित ऑनलाइन वेबीनार में कोविड-19 के दौरान स्वास्थ्य, पोषण एवं शिक्षा की गतिविधियों पर व्यापक रूप से चर्चा की गई जिसमें बच्चों की शिक्षा पर क्या प्रभाव पड़ रहा है कोविड-19 दिशानिर्देशों का उन पर चर्चा की गई एवं मातृत्व स्वास्थ्य व पोषण की वास्तविक स्थिति पर उपस्थित सदस्यों द्वारा अपने-अपने अनुभव को व्यक्त किए गए, जिसमें लॉकडाउन कोरोना के दिशा निर्देशों व संचालित कोरोना वैक्सीनेशन के प्रभाव से गर्भवती व धात्री महिलाओं और बच्चों को मिलने वाली स्वास्थ्य एवं पोषण एवं की सेवाएं बाधित हुई है। इस पर विचार इसके अतिरिक्त बाधित हुए टीकाकरण को पुनः पूर्ण कराने के लिए जिला प्रशासन को ईमेल के माध्यम से पत्राचार कर समुचित सेवाएं व सुविधाएं उपलब्ध कराने की पहल की जाएगी।

इसके साथ ही स्कूली व आंगनवाड़ी के बच्चों को मिलने वाले मध्यान भोजन व पोषण को नियमित, सुचारू कराने हेतु विभागीय अधिकारियों को ऑनलाइन पत्राचार कर सुचारू कर नियमित कराने हेतु प्रयास किए जावेंगे। इसके साथ ही बैठक में सभी उपस्थित नेटवर्क के साथियों ने तय किया कि कोरोना गाइडलाइंस के तहत सामाजिक जागरूकता की गतिविधियों को निरंतर जारी रखा जाएगा साथ ही संचालित रोको-टोको अभियान के प्रति लोगों को जागरूक कर उन्हें कोरोना टीकाकरण के संदर्भ समुचित जानकारी उपलब्ध कराकर स्वैच्छिक टीकाकरण हेतु प्रेरित किया जाएगा। ताकि ज्यादसे ज्यादा लोग टीकाकरण करा सकें।

जागरूकता की गतिविधियों में को संक्रमित व्यक्ति या परिवार के साथ उचित व्यवहार करने, उनको आवश्यकतानुसार सहायता मुहैया कराने की अपील आसपास के लोगों से की जावेगी। ताकि वे होम आइसोलेशन व होम कोरंटीन में रहने वाले अपने आप को अकेला महसूस न करें। डॉ. बबीता विजपुरिया व श्रीमती रंजना भटनागर ने सभी से इस आपदा में पीड़ित परिवारों की हर संभव मदद करने का आव्हान किया।

ऑनलाइन वेविनार में प्रमुख रूप से डॉ. बबीता विजपुरिया, एड. कल्पनाराजे बैस सदस्य बाल कल्याण समिति, श्रीमती दया मोर, श्रीमती प्रतिभा बुंदेला, श्रीमती रंजना भटनागर, श्रीमती पिस्ता राय, श्रीमती पुष्पा गुगोरिया, एड. कृपालसिंह बुंदेला, संजय तिवारी,लवकुश शर्मा, सरदारसिंह गुर्जर, सुबोध शर्मा, जीतेंद्र कुमार, सतीश सिहारे, अखिलेश कुमार, अविनाश शर्मा, अशोककुमार शाक्य, गणेश तिवारी, आयुष राय, सरल तलरेजा, बलवीर पांचाल, श्रीमती नीतू राय, कु. आकांक्षा लिटौरिया, प्रशान्त गुप्ता, कु. दीक्षा लिटोरिया, कु. शीतल रायकवार, रवि बसेड़िया, रामजीशरण राय सहित अन्य जिला स्तरीय समन्वय समिति सदस्यों ने सहभागिता की।

उपस्थित सदस्यों से अपने क्षेत्र में स्थिति पर नजर रखते हुए जिला प्रशासन से आवश्यक सहयोग हेतु प्रय्यास करने की अपील बलवीर पाँचाल व सरदार सिंह गुर्जर ने की। वेविनार के अंत में समिति सुबोध शर्मा ने सभी के आभार व्यक्त किया। आगामी बैठक ऑनलाइन वेविनार के माध्यम से 30 मई 2021 को आयोजित की जावेगी। उक्त जानकारी लवकुश शर्मा ने दी।