महिला एवं बाल विकास विभाग में विधिक जागरूकता शिविर आयोजित

श्योपुर.Desk/ @www.rubarunews.com>>प्रधान जिला न्यायाधीश/अध्यक्ष, जिला विधिक सेवा प्राधिकरण  प्रदीप मित्तल की अध्यक्षता में कार्यालय महिला एवं बाल विकास विभाग श्योपुर में 10 जुलाई 2021 को आयोजित होने वाली नेशनल लोक अदालत के प्रचार-प्रसार करने हेतु ऑंगनबाड़ी कार्यकर्ता एवं आशा कार्यकर्ता के बीच विधिक जागरूकता शिविर आयोजित किया गया।

शिविर में अपर जिला जज/सचिव, जिला विधिक सेवा प्राधिकरण  पवन कुमार बांदिल द्वारा बताया गया कि नेशनल लोक अदालत में किस प्रकृति के प्रकरण रखे जा सकते हैं। प्रकरणों के निराकरण से मामलों का अंतिम रूप से निपटारा हो जाता है। कोई अपील नहीं होती है एवं विद्युत व नगरपालिका के प्रकरणों में नियमानुसार छूट दी जाएगी। इसके साथ ही मध्यस्थता के माध्यम से भी मामलों के निराकरण कराने हेतु समझाईश दी।

जिला विधिक सहायता अधिकारी सुश्री विभूति तिवारी ने बताया गया कि नेशनल लोक अदालत में महिला एवं बाल विकास विभाग के प्रीलिटिगेशन प्रकरण, घरेलू हिंसा, दहेज एक्ट के मामलों में राजीनामा के आधार पर निराकरण करा सकते हैं। डीपीओ महिला बाल विकास  ओपी पाण्डेय द्वारा समस्त ऑगनबाडी कार्यकर्ताओं से अपील की गई कि वे अपने कार्यक्षेत्र के अंतर्गत अधिक से अधिक लोगों को नेशनल लोक अदालत के आयोजन के संबंध में जागरूक करें। शिविर में अपर जिला जज/सचिव, जिला विधिक सेवा प्राधिकरण  पवन कुमार बांदिल, जिला विधिक सहायता अधिकारी सुश्री विभूति तिवारी एवं डीपीओ महिला बाल विकास  ओपी पाण्डेय उपस्थित थे।