अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस ..महिलाओं की उपलब्धियों उनकी सकारत्मकता उनकी पहचान का एक विशेष दिन

पटना.Desk/ @www.rubarunews.com-इनर व्हील क्लब पटना जो कि महिलाओं का अंतरराष्ट्रीय संगठन है इस विशेष दिन पर समाज की उन उत्कृष्ट महिलाओं को सम्मानित करता है जिसकी अपनी विशेष छवि है।
कार्यक्रम की शुरुआत दीप प्रज्वल्लन और गणेश स्तुति के साथ हुई जिसे पूनम त्रिवेदी ने मधुर स्वर दिया।
अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस की पूर्व संध्या को इनर व्हील क्लब पटना ने बड़ी धूमधाम और उल्लास के साथ मनाया।
कार्यक्रम में आये सभी महिलाओं का स्वागत करते हुए क्लब की अध्यक्षा अमृता झा ने अपनी दिली खुशी जाहिर की। अमृता झा ने बताया कि किस तरह क्लब की सभी सदस्याएं उनका सहयोग करती है। महिला का सम्मान मात्र महिला होने से नही बल्कि उनकी गरिमामय सम्मान के लिए है।

पूर्व जिलाध्यक्षा, पूर्व संगठन कोषाध्यक्ष , डॉ नीना कुमार ने इनर व्हील के अंतरराष्ट्रीय ढांचे को सरल शब्दों में सबसे साझा किया। उन्होंने बताया कि किस तरह हम सभी महिलावों ने इनर व्हील को अपनी ज़िंदगी का हिस्सा बना लिया है। पावर पॉइंट प्रेजेंटेशन के द्वारा उन्होंने इनर व्हील के इतिहास और वर्तमान को बताया।

डिस्ट्रिक्ट एडिटर प्रियका कुमार ने सकारात्मक सोच बढ़ते कदम पर इनर व्हील क्लब पटना की शुरुआत से अब तक के सफर को बताया। 2001 में इनर व्हील क्लब पटना की शुरुआत हुई और आपसी सद्भावना और स्नेह से इसकी नींव रखी गई। पिछले 21 सालों में 21 नए क्लब खोले। और इस तरह इस संस्था से जुड़ कर महिलाये महिलाओं और बच्चों के उत्थान के लिए सतत प्रयासरत है।

पूर्व जिलाध्यक्षा सरिता प्रसाद ने आज के दिन की जरूरत उसके उद्देश्य के बारे में बताया। आज हम उन महिलाओं को सम्मानित करेंगे जिन्होंने अपने साथ अन्य महिलाओं के उत्थान के लिए कार्य किया

कार्यक्रम में अनुराधा सेन जो कि अंग्रेजी की सह प्राध्यापिका है और ऐसी महिलाओं को अपनी सेवा देती है जो आर्थिक रूप से कमज़ोर है। पूर्व अध्यक्षा डॉ भारती गुप्ता ने इनकी जीवनी पढ़ी।

डॉ सीता मुखोपाध्याय जानीमानी विकिरण चिकित्सक है जो पिछले 35 वर्षों से अपनी सेवायें दे रही है। डॉ सीता अपने क्लीनिक में स्टोरी टेलिंग लाइब्रेरी भी चला रही है और बच्चों के साथ विशेष रूप से जुड़ी है।डॉ नम्रता ने इनकी जीवनी साझा की।
श्रीमती नीलम चौधरी की जीवनी परिचय श्वेता प्रसाद ने दिया। श्रीमती नीलम भारतीय प्रशासनिक सेवा में अधिकारी है और जानी मानी नृत्यांगना भी।

अनिता चौधरी का परिचय सोनी सिन्हा ने दिया। अनिता चौधरी जानी मानी शिक्षाविद है और वर्तमान में स्वस्ति सेवा समिति के अंतर्गत सुजनी स्टीच की पुरानी परंपरा को जीवंत करने का प्रयास कर रही है साथ ही गांव में बाल पुस्तकालय बना कर बच्चों की पढ़ाई में सहायता कर रही है।

ज्योति जी की जीवनी से अंजू गुप्ता ने रूबरू करवाया। ज्योति जी 40 वर्षों तक एयर लाइन्स से जुड़ी रही और वर्तमान में ये चॉकलेट बनाने का काम करती है।

नीरजा लाल जी पत्रकारिता और जनसंचार से जुड़ी है।वर्तमान में ये सेंट ज़ेवियर कॉलेज ऑफ मैनेजमेंट एंड टेक्नोलॉजी में मास कम्युनिकेशन की हेड है।
सचिव श्रुति ने इनकी जीवनी से सभी को अवगत करवाया।
बबिता कुमारी हमारी अगली अतिथि थी जिनका परिचय संध्या सिन्हा ने करवाया। बबिता यु एन डी पी के साथ प्लास्टिक वेस्ट को लेकर काम कर रही है।

कार्यक्रम का संचालन पूर्व अध्यक्षा संध्या सरकार ने बखूबी किया।

कार्यक्रम में इनर व्हील क्लब की महिलाओं ने बहुत उत्साह से भाग लिया। कार्यक्रम में क्लब की संध्या सिन्हा, कविता, रेखा सिन्हा, रागिनी गुप्ता, चंदा गुप्ता, आभा राम, कंचन, संगीता वर्मा, भारती गुप्ता, आदि उपस्थित थे।