जिला प्रबंधक ने किया लोक सेवा केन्द्र का औचक निरीक्षण

भिण्ड.ShashikantGoyal/ @www.rubarunews.com>> कलेक्टर डॉ सतीष कुमार एस के निर्देशन में जिला प्रबंधक लोक सेवा भानु प्रजापति ने लोक सेवा केन्द्र मेहगांव एवं गोरमी का निरीक्षण किया। आवेदक महेंद्र प्रताप सिंह की शिकायत जिसमे आवेदक को समय सीमा में नकल ना मिलना बताया गया था को संज्ञान में लेते हुए लोक सेवा केन्द्र से लोक सेवाओं के प्रदाय की गारंटी अधिनियम के अंर्तगत सेवाओं, समाधान एक दिवस की सेवाओं, केंद्र में आयुष्मान भारत के पंजीयन आदि की समीक्षा की। लोकसेवा केंद्र मेहगांव में इंचार्ज एवं एक ऑपरेटर के ड्रेस कोड में ना होने पर एवं आयुष्मान भारत में संतुष्टिपूर्वक पंजीयन ना करने  एवं  उदासीनता बरतने पर कारण बताओ नोटिस जारी करने के निर्देश दिए।

जिला प्रबंधक ने स्पष्ट निर्देश दिए की किसी भी आवेदक से तय शुक्ल से ज्यादा न लिया जाये एवं हेल्प डेस्क एवं प्राधिकृत अधिकारियों के नंबर डिस्प्ले करने के निर्देश दिए। ज्ञात हो की विगत 6 दिन पुर्व लोक सेवा केंद्र मेहगांव संचालक पर 500 रूपए का अर्थदंड अधिरोपित किया गया था। लोक सेवा केंद्र गोरमी के निरीक्षण पर एक समाधान एक दिवस, लोक सेवा गारंटी अधिनियम अन्तर्गत दर्ज आवदेन की समीक्षा की एवं तत्काल सीएससी के रजिस्ट्रेशन कराने के र्निदेश दिए एवं आवेदक कटारे जी को तत्काल सेवा का निराकरण कर लाभ प्रदाय किया गया। इस अवसर पर प्राधिकृत अधिकारी भी उपस्थित थे। कलेक्टर के निर्देशन में शासन नियमानुसार लोक सेवा केन्द्रों को आदर्श सेवा केंद्र के रुप में स्थापित करने की कार्यवाही लोक सेवा प्रबंधन विभाग द्वारा की जा रही है जिसमे समस्त लोक सेवा केंद्रों को लोक सेवा गारंटी अधिनियम के अलावा, समाधान एक दिवस की तत्काल सेवाओं, आयुष्मान भारत लाभार्थी कार्ड, आधार पंजीयन सेवा, सीएससी एवं एमपी ऑनलाइन की सेवाएं, भू अभिलेख की सेवाओं आदि को एक ही जगह से प्रदाय किया जाना है, इससे न सिर आवेदक को आसानी होगी बल्कि शासन स्तर से केन्द्रों को भुगतान की जाने वाली वीजीएफ राशि में भी कमी आएगी।