उपलब्धियों की सराहना, और बेहतर की उम्मीद -जिला प्रभारी मंत्री ने जांची जिले की प्रगति

बूंदी.KrishnaKantRathore/ @www.rubarunews.com-  जिला प्रभारी मंत्री श्री परसादी लाल मीणा ने गुरूवार को जिला स्तरीय अधिकारियों की बैठक लेकर निर्माणाधीन परियोजनाओं, स्वीकृत योजनाओं, बजट घोषणाओं आदि की विस्तृत समीक्षा की। जिला प्रभारी मंत्री ने अधिकारियों को क्रमवार बुलाकर विभागीय योजनाओं को बिंदुवार जांचा और आवश्यक निर्देश दिए। उन्होंने उपलब्धियों पर जिले की सराहना की और बेहतर प्रदर्शन करने की बात कही।
प्रभारी मंत्री ने कहा कि परियोजनाओं के निर्माण में गति लाई जाए ताकि ये तय समय पर पूर्ण हो सके। साथ साथ गुणवत्ता भी बनी रहनी चाहिए। उन्होंने अधिशासी अभियंता सीएडी से पूछा कि टेल तक पानी क्यों नहीं पहुंच रहा, जल्दी ही टेल के किसानों को पानी दिया जाए। इस पर उन्होंने जल्दी ही टेल तक पानी पहुंचाने की बात कही। जयपुर विद्युत वितरण निगम के अधीक्षण अभियंता से सतर्कता जांच प्रतिवेदन (वीसीआर) की विस्तार से जानकारी ली और सुसंगत कार्रवाई के निर्देश दिए। सार्वजनिक निर्माण विभाग के निर्माणाधीन आरओबी तथा अन्य बड़ी सड़क परियोजनाओं की प्रगति जानी। जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी एवं सिंचाई विभाग की परियोजनाओं की प्रगति की जानकारी लेते हुए निर्देश दिए कि परियोजनाओं की निरंतर मॉनिटरिंग करते हुए तय समय पर उन्हें पूरा किया जाए। संयुक्त निदेशक पशुपालन से पशु चिकित्सा व्यवस्थाओं एवं उपचार की जानकारी लेते हुए निर्देश दिए कि पशुपालकों को राजकीय औषधालय से अधिकाधिक दवाएं मिल सके और वे अनावश्यक तौर पर बाजार से दवाई लेने के लिए बाध्य ना हों, यह सुनिश्चित किया जाए।
इस प्रकार उन्होंने जिला परिषद, जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी, विद्युत, सिंचाई, ग्रामीण विकास, चिकित्सा, सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता, महिला एवं बाल विकास श्रम विभाग, शिक्षा विभाग, उद्योग, रसद आदि विभागों की योजनाओं की बिन्दुवार समीक्षा की। योजनाओं की लागत स्वीकृति, वर्तमान प्रगति, पूर्ण होने की अवधि, इनके परिणाम, बाधाऐं आदि सभी बिन्दुओं विस्तार से जानकारी ली। प्रभारी मंत्री के समक्ष जिला कलेक्टर आशीष गुप्ता ने विश्वास दिलाया कि विभिन्न योजनाओं में श्रेष्ठ उपलब्धि अर्जित की जाएगी। जिला पुलिस अधीक्षक शिवराज मीणा, क्षेत्रीय वन अधिकारी सोनल, अतिरिक्त जिला कलेक्टर एयू खान, जिला परिषद सीईओ मुरलीधर प्रतिहार, उपखंड अधिकारी बूंदी कैलाश गुर्जर एवं विभिन्न जिला स्तरीय अधिकारी मौजूद रहे।
——-