जनसुनवाई कार्यक्रम में आदिवासी परिवार की मुखिया महिलाओं ने दिये 154 आवेदन

श्योपुर.rubarudesk/@www.rubarunews.com>> कलेक्टर श्रीमती प्रतिभा पाल की अध्यक्षता में राज्य शासन के महत्वाकांक्षी कार्यक्रम जनसुनवाई का आयोजन आज निषादराज भवन श्योपुर पर किया गया। इस जनसुनवाई के दौरान शहरी एवं ग्रामीण अंचल से आये 240 आवेदनों के निराकरण के लिए विभागवार कार्यवाही की गई। जिसमें 154 आवेदन सहरिया परिवार की मुखिया महिलाओं के शामिल है। जनसुनवाई के दौरान सीईओ जिला पंचायत श्री हर्ष सिंह एवं विभिन्न विभागों के जिला अधिकारी, पत्रकार और शहरी, ग्रामीण क्षेत्र से आए नागरिक उपस्थित थे।

कलेक्टर श्रीमती प्रतिभा पाल ने जनसुनवाई में आए शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्र के नागरिक सर्वश्री भोला आदिवासी निवासी श्योपुर, रामचरण निवासी अभयपुरा, बुन्दो वेबा पत्नि सहर आदिवासी रामपुराडांग, गुड्डी पत्नि भगवानदास सहरिया ग्राम गिलास, बीरबल मीणा पुत्र बद्री मीणा निवासी टोंगनी, छोटाबाई माझी पत्नि कन्हैयालाल आदिवासी निवासी हसनुपर हवेली, खलील पुत्र रहमतुल्ला निवासी बगवाज, लक्ष्मण आदिवासी पुत्र पप्पू आदिवासी, अमर सिहं मीणा निवासी जैदा, पुरूषोत्तम शर्मा निवासी किला श्योपुर, उर्मिला पत्नि बीरबल, बीरबल पुत्र रामकिशन बैरवा निवासी अजापुरा, लक्ष्मण आदिवासी पुत्र पप्पू आदिवासी निवासी कलारना सहित 240 आवेदनो पर कार्यवाही की गई। इसी प्रकार सहरिया परिवार की महिलाओं के 154 आवेदन आदिम जाति कल्याण विभाग को 01 हजार रूपये की सहायता राशि के भिजवाये गये।

जनसुनवाई में विधुत कंपनी कें 04, अनुविभागीय अधिकारी कराहल के 01, अनुविभागीय अधिकारी श्योपुर के 04, कार्यपालन यंत्री पीडब्ल्यूडी, जिला आपूर्ति, नागरिक आपूर्ति निगम, जिला परियोजना समन्वयक, महिला एवं बाल विकास, तहसलीदार वीरपुर, नायब तहसीलदार मानपुर, नकल शाखा, शस्त्र शाखा, जनपद विजयपुर के क्रमशः 1-1 आवेदन उपलब्ध कराये। इसी प्रकार तहसीलदार कराहल, बडौदा एवं विजयपुर के क्रमशः 4-4 आवेदन कार्यवाही के लिए भेजे गये। साथ ही तहसीलदार श्योपुर के 31, जनपद कराहल के 03, जनपद श्योपुर के 05, नगर पालिका श्योपुर के 14, लीड बैंक के 02 एवं सहायक आयुक्त जनजाति कार्य विभाग के 154 कुल 240 आवेदको पर कार्यवाही की गई।

जनसुनवाई के दौरान शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों के नागरिकों से प्राप्त पेंशन, राशन पर्ची, विद्युत, राशनकार्ड, आर्थिक सहायता, वृद्धावस्था पेंशन, नामांतरण, आर्थिक सहायता, कुपोषण से जंग के लिए एक हजार रूपए की सहायता, विनियमितिकरण, अनुकंपा नियुक्ति, पारिश्रमिक, विकलांग सहायता, सीमाकन, कब्जा, छात्रवृत्ति, किसान सम्मान निधि, पानी आदि के आवेदनों पर भी गंभीरता पूर्वक कार्यवाही की। जनसुनवाई के दौरान आए नागरिकों को पावती भी उपलब्ध कराई गई।

Umesh Saxena

I am the chief editor of rubarunews.com