देश को रचनात्मक सोच और अनुशासित युवा पीढ़ी की आवश्यकता

भोपाल.Desk/@www.rubarunews.com>>मुख्यमंत्री  कमल नाथ ने कहा है कि आज देश को रचनात्मक सोच और अनुशासित युवा पीढ़ी की आवश्यकता है, जो सेवा से जुड़े और पूरे देश को एकसूत्र में पिरोए। उन्होंने कहा कि एनसीसी एक ऐसा माध्यम है, जिसके जरिए हम देश के बेहतर भविष्य के लिए युवा शक्ति की ऊर्जा का उपयोग सही दिशा और दृष्टि के साथ कर सकते हैं। मुख्यमंत्री कमल नाथ दिल्ली में गणतंत्र दिवस परेड में प्रतिभागी मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ के एनसीसी के छात्र-छात्राओं के मुख्यमंत्री निवास में आयोजित सम्मान समारोह को संबोधित कर रहे थे। इस मौके पर स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ. प्रभुराम चौधरी उपस्थित थे।

मैं भी एनसीसी का कैडेट था

मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ ने एनसीसी के छात्र-छात्राओं के सम्मान समारोह में कहा कि मुझे आज इस कार्यक्रम में शामिल होकर अपने छात्र जीवन की याद आ गई, जब मैं भी एनसीसी का कैडेट था। उन्होंने कहा कि मैं उस समय दून स्कूल में पढ़ता था और वहाँ से कैम्प के लिए नागपुर के पास कामठी जाता था। अनुशासन, राष्ट्र के प्रति प्रेम, राष्ट्र के हितों की सुरक्षा और दुश्मनों से राष्ट्र को सुरक्षित रखने का पाठ मैंने वहीं से सीखा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि आज मेरे जीवन में जो अनुशासन और राष्ट्र के प्रति कुछ करगुजरने की तमन्ना है, उसमें एनसीसी द्वारा दी गई शिक्षा का महत्वपूर्ण स्थान है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि एनसीसी का लक्ष्य है कि हमारी युवा पीढ़ी सेवा से जुड़े और उसमें राष्ट्रभक्ति की भावना मजबूत हो। उन्होंने कहा कि देश की सुरक्षा के साथ ही हमारा जनजीवन अनुशासित हो, यह शिक्षा हमें अपने स्कूली जीवन में एनसीसी के माध्यम से मिलती है। मुख्यमंत्री ने कहा कि आज सबसे बड़ी आवश्यकता इस बात की है कि हमारी युवा पीढ़ी देश की उस विशेषता को पहचाने, जिसके कारण पूरी दुनिया में हम महान हैं। उन्होंने कहा कि हमारे देश में विभिन्न जातियां, धर्म, भाषा और संस्कृति को जब विश्व एक झण्डे के नीचे एकजुटता के साथ खड़ा हुआ देखता है, तो उसे आश्चर्य होता है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारी संस्कृति दिलों को जोड़ती है, संबंध बनाती है, रिश्तों को मजबूत करती है। हमारे सामाजिक मूल्य से मिले संस्कार दूसरों को सम्मान देना सीखाते हैं और एक-दूसरे के प्रति आदर की भावना रखते हैं। उन्होंने एनसीसी में शामिल छात्र-छात्राओं से कहा कि वे अपने देश की बहुलतावादी महान संस्कृति को मजबूत और अक्षुण्ण बनाए रखने के लिए संकल्पित हों।

मुख्यमंत्री ने इस मौके पर एरोमॉडलिंग, साफ-सफाई, शूटिंग आदि प्रतियोगिताओं में स्वर्ण, सिल्वर और कांस्य पदक जीतने वाले छात्र-छात्राओं तथा नई दिल्ली की गणतंत्र दिवस परेड में गॉड ऑफ ऑनर और राजपथ परेड में भाग लेने वाले मध्यप्रदेश-छत्तीसगढ़ के एनसीसी के छात्र-छात्राओं को सम्मानित किया।

मुख्यमंत्री  कमल नाथ को एनसीसी नेवल कैडेट्स द्वारा बनाई गई शिप, स्मृति चिन्ह के रूप में भेंट की गई। मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ एनसीसी के अतिरिक्त महानिदेशक मेजर जनरल  संजय शर्मा द्वारा एनसीसी निदेशालय की गतिविधियों और उपलब्धियों की जानकारी दी गई।

 

Umesh Saxena

I am the chief editor of rubarunews.com