जख्मी मिला गरूड़ प्रजाति का पहाड़ी उल्लू- वन विभाग ने शुरू किया उपचार

बूंदी.KrishnaKantRathore/ @www.rubarunews.com- बूंदी-चितौड मार्ग पर गुढ़ानाथावतान में मंगलवार को जख्ती हालत में मिले एक दुर्लभ पहाड़ी उल्लू का रेस्क्यू किया गया। गरूड़ प्रजाति के इस उल्लू को वन विभाग ने अपने कब्जे में लेकर पशु चिकित्सकों की देखरेख में उपचार शुरू करवाया। जानकारी के अनुसार कस्बे के निकट तीन दिन से यह उल्लू एक बाड़े में बैठा था, जिसे वन विभाग ने युवक रिपूदमन चैधरी के सहयोग से सुरक्षित रेस्क्यू कर बूंदी जिला पशुचिकित्सालय में उपचार शुरू करवाया है। पक्षी प्रेमी पृथ्वी सिंह राजावत ने बताया कि आमतौर पर यह उल्लू पेड़ों पर नहीं बैठता है और जमीन या पहाड़ी गुफाओं को ही पर ही अपना आशियाना बनाता है। इस प्रजाति के उल्लू चम्बल की कंदराओ में देखे जाते है। जिले के भीमलत, खजूरी एवं रामगढ़ अभ्यारण्य के सघन वन क्षेत्र में भी यह उल्लू पाए जाते हैं।