माँ पीताम्बरा मंदिर के सामने बारहद्वारी ट्रेक्टर बैक करते समय टकराने से जमीदोंज

माई की कृपा से कोई हताहत नही जबकि इस मार्ग पर बहुत आवाजाही रहती है

कुछ मोटरसाइकिल मलबे में दबीं, राहत कार्य जारी

दतिया @rubarunews.com>>>>>>>>>>>>>>>>> माई की नगरी और माँ पीताम्बरा मंदिर के समीप नगर में भव्य सुंदरता का प्रतीक मां पीतांबरा पीठ मंदिर के मुख्य द्वार के सामने बनी बारहद्वारी को रेत से भरे एक ओवरलोड ट्रैक्टर ने टक्कर मारते हुए शहर की सुंदरता का मिजाज बिगाड़ दिया। हालांकि ट्रैक्टर चालक की लापरवाही से लगी ठोकर से बारादरी भरभरा कर जमींदोज हो गई।

प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार माई महाराज की कृपा से गनीमत रही कि इस हादसे में कोई भी व्यक्ति हताहत नहीं हुआ है, लेकिन क्षतिग्रस्त बारादरी के नीचे कई मोटरसाइकिलें दबने से नेस्तनाबूद हो गई है। ताजा घटनाक्रम दतिया शहर के पीताम्बरा मंदिर के मुख्य द्वार के सामने की है। जब यह घटना है घटने से पहले ट्रैक्टर चालक रेत से भरे ओवरलोड ट्रैक्टर को गियर डालकर बैक कर रहा था, गुरुद्वारे के पास बने गुमवदो में ट्रैक्टर की टक्कर से पिलर गिर गया। जिसके पश्चात देखते ही देखते पूरी की पूरी बारादरी लोगों के सामने बिखर कर सामने आ गिरी।

जब यह घटना घटित हो रही थी तभी वहां से मोटरसाइकिल एवं वाहन चालक के साथ पैदल यात्री सड़क मार्ग होते हुए बारादरी के नीचे से निकल रहे थे। लेकिन मां पीतांबरा माई की कृपा से कोई भी व्यक्ति इस हादसे में हताहत नहीं हुआ है। जब यह है बारादरी गिरी सब लोग देखते ही देखते हैं सचेत तो हो गए और वहां से दौड़ लगा दी। जिससे उनकी जान बची।

इस हादसे में लोगी बाइक नष्ट होने के साथ दतिया शहर की सुंदरता बढ़ाने वाली बारादरी का मिजाज एक ट्रैक्टर चालक की लापरवाही से बिगड़ गया। मालूम हो कि पीतांबरा पीठ मंदिर के मुख्य द्वार पर भव्य द्वार के निर्माण के साथ ही राजस्थान के जयपुर के कलाकारों ने अद्भुत कला के साथ इस बारादरी का निर्माण किया था, जो कि इसकी लागत है अनुमान के मुताबिक करोड़ों में है।

मंदिर ट्रस्ट एवं जिला प्रशासन को बारादरी के क्षतिग्रस्त होने से करोड़ों का नुकसान हुआ है। घटना के पश्चात पुलिस प्रशासन एवं जिला प्रशासन के अधिकारी कलेक्टर, पुलिस अधीक्षक व अन्य अधिकारी मौके पर पहुंचे और बारादरी के मलबे को हटाने और रास्ता सुगम करने के लिए कार्य युद्ध स्तर पर जारी है। वही इस घटना के बाद टैक्टर चालक मौके से फरार हो गया। अभी जेसीबी मशीन द्वारा मलबे को मुख्य मार्ग से हटाया जा रहा है। ताकि शहर का मुख्य मार्ग आवाजाही के लिए सुगम हो सके।