जल जंगल और ज़मीन कि समस्याओ के निदान हेतु समाज कि एकता जरुरी – रणसिंह परमार

श्योपुर.Desk/ @www.rubarunews.com>>सहरिया समाज में व्याप्त समस्याओ के निदान हेतु समाज में संगठन आवश्यक है अगर समाज एकजुट होगा तो कोई भी कार्य असंभव नहीं है एकता के बल पर ही जो लोग भूमिहीन थे कई लोग में ही भूस्वामी थे पर ज़मीन पर वह काविज नहीं थे वह संगठन के मदद ज़मीनदार बन सके इतना ही नहीं सहरिया समाज का राजनीतिक वर्चस्व कायम हो सका और आदिवासी समाज का विधायक बन सका उक्त उदगार सहरिया मुखिया पंचायत के मुख्य अतिथि एकता परिषद के राष्ट्रीय अध्यक्ष रणसिंह परमार द्वारा आदिवासी समाज के मुखियाओं को सम्बोधित करते हुये कहे उन्हें कहा कि समाज को आगे बढ़ाने के लिए जहा एक ओर सहारिया समाज को अपनी ज़मीनो पर कब्ज़ा दिलाना है वही समाज को नशा मुक्ति कि और ले जाना है इस हेतु  होली से पूर्व 25 तारीख को कलारना गांव में आदिवासी महापंचायत का आयोजन किया जायेगा |

गाँधी आश्रम श्योपुर प्रबंधक जयसिंह जादौन ने कहा कि बिना सूचना के बाहर मजदूरी नहीं जाए पहले वह गाँधी आश्रम में पंजीयन कराये और बताये वह किसके साथ और कहा जारहे है रामदत्त तोमर ने कहा कि एकता परिषद हमेशा से आदिवासी समाज को जल, जंगल, ज़मीन के कब्जे दिलाने का कार्य कर रहा है तथा इन समस्याओ को प्रसाशन के मध्यम से दूर करने के लिए सदैव तत्पर है इसलिए आप अपनी समस्याओ को दर्ज किया है

एकता परिषद के जिलाध्यक्ष गंगाराम ने कहा कि कोरोनाकाल में संगठन कि पंचायतो में रूकावट आने से संगठन का खौफ प्रशासन में कम हो गया है अब हमें एकजुट होकर इसका जवाब देना है इसके बाद प्रेम आदिवासी कराहल रामजीलाल पटेल शिलपुरी,ताराचंद गोरस एवं काशीराम ने कहा कि शराब के करना हमारे समाज के कई युवाओं कि मौत हो गई उस बुराई को हमें जड़ से खत्म कराना है छोटेलाल सेमरिया ने कहा कि कई  लोग आदिवासी समाज के आड़ में कच्ची शराब का व्यवसाय कर रहे है उनकी जानकारी हमें दे

लख्खू लहरोनी और सुरजा वर्धा ने कहा कि हमें संगठन को मजबूत करना है और अपनी ज़मीनो को दबंगो से मुक्त करा कर उन पर खेती करना है चाहे इसके लिए संघर्ष ही करना पड़े बाबूलाल आर्य ने कहा कि में सेवामुक्ति के बाद अब गरीबो कि सेवा करना चाहता हूँ तथा जो भी दस्तावेजीकरण का कार्य होगा वह समाज के लिए में करने के लिए तैयार हूँ हरनाथ परतवाडा ने बताया कि अभी तक 200 ज़मीन के प्रकरण मेरे द्वारा पंजीबद्ध किये जा चुके है कुछ गांव में दबंगो से कब्ज़ा छुड़ाया गया था लेकिन दबंग पुनः उन ज़मीनो पर काबिज हो गये है सभा के बाद अगली पंचायत हेतु कलारना के जगन पटेल ने जिम्मेदारी ली कि अगली पंचायत 25 मार्च को कलारना में आयोजित कि जायेगी पंचायत के बाद सभी सम्मानीय मुखियाओं तथा सहरिया समाज के विकाश के लिए सामने आये युवाओ का तौलिया उड़ा कर सम्मान किया गया | आभार दौलत राम  ने व्यक्त किया कार्यक्रम का संचालन जयसिंह जादोंन ने किया