टाईगर रिजर्व का कोर एरिया ईको सेंसटिव जोन में शामिल Tiger Reserve’s core area included in eco-sensitive zone

बूंदी.KrishnakantRathore/ @www.rubarunews.com>> रामगढ़ विषधारी टाईगर रिजर्व बूंदी ईको सेंन्सटिव जोन समिति की बैठक जिला कलेक्टर डॉ. रविन्द्र गोस्वामी की अध्यक्षता में आयोजित हुई। इसमें सुप्रीम कोर्ट के 3 जून 2022 को जारी आदेश की अनुपालना में राज्य सरकार द्वारा रामगढ़ अभयारण्य एवं चम्बल अभयारण्य के चारोँ ओर ईको  सेंसेटिव  जोन घोषित करने को लेकर विचार विमर्श किया गया।

टाईगर रिजर्व का कोर एरिया ईको सेंसटिव जोन में शामिल Tiger Reserve’s core area included in eco-sensitive zone

बैठक में जिला कलेक्टर ने निर्देश दिए कि सुप्रीम कोर्ट के 3 जून 2022 को जारी आदेश की अनुपालना में सभी नियमों को पूरा करते हुए ईको संेन्सटिव जोन घोषित करने की प्रक्रिया पूरी की जावे।

बैठक में टाईगर रिजर्व के कोर एरिया परिस्थितियों यथा आबादी, खनन, औद्योगिक, विद्यमान अन्य प्रकार के जैविक दबाओं को ध्यान में रखते हुए तय करने को लेकर चर्चा की गई।

ज़ीनिक्स शोध: दवा-प्रतिरोधक टीबी का इलाज बेहतर हुआ सम्भवXenix research: drug-resistant TB treatment made possible

बैठक में उपवन संरक्षक एवं उप क्षेत्र निदेशक (कोर) रामगढ़ विषधारी टाईगर रिजर्व संजीव शर्मा ने बताया कि बैठक में टाईगर रिजर्व के कोर एरिया में स्थापित गांवों को लेकर चर्चा की गई। उन्होंने बताया टाईगर रिवर्ज के कोर एरिया (एक किलोमीटर) को इको सेंसटिव जोन में रखे जाने का प्रस्ताव पारित किया गया है।

बैठक में नगर परिषद सभापति मधु नुवाल, उपखण्ड अधिकारी बूंदी हेमराज परिड़वाल, केशवरायपाटन उपखण्ड अधिकारी बलवीर सिंह, हिण्डोली  उपखण्ड अधिकारी अमित चौधरी, तालेडा उपखण्ड अधिकारी अमित महावर, पूर्व वन्य जीव प्रतिपालक पृथ्वी सिंह राजावत, विठ्ठल सनाढ्य आदि मौजूद रहे।