परिजनों ने किया 3 महीने की मासूम को मारने का प्रयास-माँ पहुंची एसपी ऑफिस

भिण्ड.ShashikantGoyal/ @www.rubarunew.com>> जिले में एक परिवार द्वारा 3 महीने की मासूम को मारने के प्रयास का सनसनीखेज मामला सामने आया है। मासूम का गला दबाकर मारने की कोशिश की गई जिससे उसके गले पर भी निशान पड़ गए। मां ने जब बच्ची के पिता से उसको इलाज के लिए ले जाने के लिए बोला तो वह नहीं आया। ऐसे में पीड़ित मां बच्ची को लेकर पुलिस अधीक्षक कार्यालय पहुंची। जहां से चाइल्ड लाइन की मदद से बच्ची को उपचार के लिए भेजा गया। एक समय था जब कई ग्रामीण क्षेत्रों में बच्चियों को पैदा होते ही मार दिया जाता था। इसीके चलते लिंगानुपात में भी काफी अंतर आ गया। लेकिन सामाजिक संस्थाओं और सरकारों द्वारा बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ अभियान के चलते लोगों में जागरूकता आई और लिंगानुपात में अंतर कम होने लगा। लेकिन अभी भी कुछ लोग बेटे की चाहत में बेटियों को मारने पर तुले हैं।

 

ऐसा ही एक मामला सामने आया है भिण्ड जिले में। यहां पर भारौली गांव के रहने वाले नाहर सिंह के घर बेटी का जन्म हुआ। लेकिन नाहर सिंह सहित उसका पूरा परिवार बेटे की चाहत रखे हुए था। और इसीके चलते उन्होंने 3 महीने की मासूम को गला घोंटकर मारने की कोशिश की। जिसके बाद मासूम की मां उसे लेकर एसपी ऑफिस पहुंची। मां के अनुसार वह बच्ची को परिजनों के बीच छोड़कर घर के काम करने लगी। इसी दौरान उसे बच्ची के चीखने की आवाज आई। वह दौड़कर बच्ची के पास पहुंची और देखा कि उसके मुंह से झाग निकल रहा था, जबकि एक बनियान नजदीक पड़ी हुई थी। बच्ची के गले पर गला घोंटने का निशान भी बना हुआ था। पास में ही उसका पति एवं घर के अन्य सदस्य भी बैठे हुए थे। उसने जब पति से बच्ची को डॉक्टर के पास ले चलने के लिए बोला तो पति का कहना था कि मर जाने दो उसे। जिसके बाद मां अपनी बच्ची को लेकर एसपी ऑफिस पहुंची। एसपी मनोज कुमार सिंह ने मामले को गंभीरता से लेते हुए थाना प्रभारी को तुरंत कार्यवाही करने के निर्देश दिए। साथ ही चाइल्ड लाइन की मदद से बच्ची को अस्पताल भिजवाकर उसके इलाज की व्यवस्था कराई। एसपी मनोज कुमार सिंह का कहना है कि मामले की जांच कर उचित कार्यवाही की जाएगी।