विश्व उपभोक्ता दिवस पर संगोष्ठी का आयोजन

बूंदी.KrishnaKantRathoreविश्व उपभोक्ता दिवस के अवसर पर सोमवार जिला कलक्टेªट सभागार में संगोष्ठी का आयोजन किया गया। संगोष्ठी की थीम ’’प्लास्टिक प्रदुषण पर रोक थाम’’ रखी गई। संगोष्ठी की अध्यक्षता कर रहे अतिरिक्त जिला कलक्टर ए.यू. खान ने सभी उपस्थित संगठन प्रतिनिधियों, विभिन्न विभागीय अधिकारियों को उपभोक्ता विषयक जानकारियों का व्यापक प्रचार प्रसार करने के निर्देश दिए तथा कोविड-19 के निर्देशों की पालना करते हुए मास्क लगाने व वैक्सीनेशन के लिए संबंधित लोगों को जागरूक करने की आवश्यकता पर बल दिया।
संगोष्ठी में प्रवर्तन अधिकारी शिवजी राज जाट ने सभी आमंत्रित सदस्यों का स्वागत किया। उन्हांेने विश्व उपभोक्ता दिवस तथा उपभोक्ता अधिकारों पर संक्षिप्त जानकारी दी। जिला उपभोक्ता मंच के सदस्य विजेन्द्र सिंह ने उपभोक्ताओं के कर्तव्यों व अधिकारों का विस्तृत विवेचन करते हुए उपभोक्ता संरक्षण अधिनियम 2019 के प्रावधानों की जानकारी दी। सिंह ने बताया कि नये उपभोक्ता संरक्षण अधिनियम 2019 में भ्रामक विज्ञापनों, ई-काॅमर्स आदि को भी उपभोक्ता संरक्षण के दायरे में लाया गया है। ताकि कोई कंपनी भ्रामक विज्ञापन कर गलत वस्तु या सेवा उपभोक्ता को नहीं बेच सके। ई-काॅमर्स कंपनियों की ठगी को भी उपभोक्ता संरक्षण के दायरे में लाया गया है।
जिला उपभोक्ता मंच की सदस्या संतोष भाकल ने कृषि बीमा से प्रभावित उपभोक्ताओं की ओर ध्यान खींचते हुए उन्हे जागरूक होने की बात कहीं। उन्होंने बताया कि उनके मंच में कृषि बीमा के परिवाद विफल हो जाते है। जिसका कारण कृषक को पूर्ण जानकारी का अभाव होता है। इस संबंध में संगोठी में उपस्थित कृषि विभाग प्रतिनिधि राजेश शर्मा ने बताया कि कृषि फसल बीमा योजना का व्यापक प्रचार प्रसार किया जाता है तथा प्रतिवर्ष बीमा राशि का भुगतान भी जिले में किया जाता रहा है। कृषकों को इस संबंध में जागरूक करने बाबत् प्रचार प्रसार की विभागीय नियमानुसार बढाये जाने का प्रयास किया जायेगा। संगोष्ठी में किसान संगठनों से जुडें प्रतिनिधि शिवराज पुरी, बद्री लाल चैधरी, किशनगोपाल मीणा, लोकेश धाकड आदि ने कृषि क्षैत्र में फसल बीमा योजना का समुचित लाभ दिलाने तथा इसके व्यापक प्रचार प्रसार की मांग की तथा कृषि विभाग द्वारा इस हेतु जागरूकता अभियान चलाने की मांग की गई। एन.एस.एस. प्रभारी डाॅ. सीमा चैधरी सह आचार्य राजकीय महाविद्यालय बून्दी ने बताया कि आज कि दौर में उपभोक्ता को स्वयं आगे आकर पहल करनी होगी तथा अपने हितो के प्रति जागरूक होना पडेगां। केवल सरकारी कार्यक्रमांें पर ही निर्भरता नहीं रखना चाहिए। एडवोकेट प्रदीप शर्मा बार एसो. बून्दी द्वारा उपभोक्ता मंच में दायर होने वाले प्रकरणों के तकनीकी पहलूओं की जानकारी दी। रिचमण्ड सोसायटी की प्रतिनिधि सुश्री रिषिका राजीव ने वर्तमान में उपभोक्ताओं के बदलते हितों एवं वस्तु व सेवा प्रदाताओं द्वारा नये नये तरीकों से किए जा रहे शोषण से बचाव के उपाओं पर प्रकाश डाला। हरिश कपूर उदय संस्थान प्रतिनिधि ने प्लास्टिक प्रदुषण से हो रही समस्याओं तथा उनके निदान के बारे में अवगत करवाया। नीरज मीणा प्रवर्तन निरीक्षक बून्दी ने सभी को धन्यवाद देते हुए संगोष्ठी का समापन किया । संगोष्ठी में व्यापार मण्डल अध्यक्ष ओमप्रकाश जिंदल, गैस एसोसियसन प्रतिनिधी वर्धन विजय, राशन डीलर संघ प्रतिनिधि बी.एल. मीणा, श्री मोहनसिंह, रामहेत मीणा, खाद्य सुरक्षा अधिकारी लक्ष्मीकांत गुप्ता, अधिवक्तागण श्री रवि कुमार, सोनू सैनी आदि उपस्थित रहे।

Umesh Saxena

I am the chief editor of rubarunews.com