मानव संवेदनाओं की सूचक है जलसेवा : नागौरी

बून्दी.KrishnaKantRathore/ @www.rubarunews.com- भारत स्काउट गाइड द्वारा बस स्टैंड पर संचालित मृदुल जल मंदिर पर रात्रि कालीन जल सेवा अभियान शनिवार शाम को शुभारम्भ किया गया। आयोजित कार्यक्रम में संगठन के उपप्रधान डॉ एस एल नागौरी मुख्य अतिथि रहे व अध्यक्षता कार्यकारिणी अध्यक्ष चतुर्भुज महावर ने की। अतिथियों ने पूजा अर्चना के साथ फीता काटकर जल सेवा का शुभारंभ किया। इस अवसर पर नागौरी ने कहा कि ग्रीष्म काल मैं प्यासे कंठों को जल अमृत समान तृप्ति प्रदान करता है। यह पुनीत कार्य वास्तविक मानव सेवा है जो मानव संवेदना का पर्याय है, उन्होंने तैतीस वर्षों से अनवरत संचालित जल सेवा कार्य की सराहना की व पूरी टीम को बधाई दी।




अतिथियों ने पूजा अर्चना, स्वस्तिवाचन व महामृत्युंजय पाठ के साथ विश्व शांति व निरोगगमयी विश्व की प्रार्थना की। अभियान शुरुआत के अवसर पर अध्यक्षीय उद्बोधन में महावर ने कहा कि स्काउट गाइड सेवा का पर्याय है। इसी का उदाहरण है कि छोटी काशी में स्काउट गाइड के विशिष्ट प्रयासों से जल सेवा अनवरत रूप से जारी है। स्वयंसेवको के समर्पण भाव व सहयोग से संचालित यह जल सेवा व्यवस्था मानवीय सेवा में अपनी अहम भूमिका निभा रही है। अभियान के संचालक रोवर लीडर रमेश चंद पारीक ने बताया कि रात्रि कालीन जल सेवा व्यवस्था के अंतर्गत प्रतिदिन मृदुल अग्रज सेवादल व पंडित मदन मोहन मालवीय रोवर क्रू के नेतृत्व में कोरोना गाइड लाइन की पालना के साथ यात्रियों को जल सेवा प्रदान की जाएगी। उन्होंने कहा कि इस पुनीत कार्य मे आमजन भी सहभागी बन सकतें हैं। आयोजन मे यह डीटीसी देवी सिंह सैनानी, सीओ स्काउट गिरिराज गर्ग, सहसचिव सर्वेश तिवारी, अग्रज लीडर बुद्धि प्रकाश पुंडीर, अग्रज सुबोध गर्ग, यशवंत टेलर, चंडी सिंह, नरेंद्र शर्मा, सोहन सिंह शीहर, हेमराज ओड़,ओम पटवारी, देवप्रकाश ओझा, निर्मल नारवानी, राजेन्द्र शर्मा व ओम ईनपतिया, रोवरमेट आतिश वर्मा ने सहभागिता की।