शासकीय भूमि को छोड़कर महिला के खाते की जमीन पर बनाई जा रही है गौशाला

भांडेर /दतियाSurendra Ojh/ @www.rubarunews.com>> जिले की ग्रामीण विकास विभाग के अंर्तगत आने वाली ग्राम पंचायतों में विकास कार्य एवं निर्माण कार्य मजदूरों से न कराए जाकर जेसीबी से करने के साथ एक महिला खाते की जमीन पर गोशाला की खुदाई की जाकर निर्माण कार्य किया जा रहा है। जिससे उक्त महिला परेशान होने पर कलेक्टर से गुहार लगाने पहुँची ओर इस गलत निर्माण कार्य की शिकायत कर कार्यवाही किये जाने की मांग की है। यह ताजा मामला दतिया जनपद की ग्राम पंचायत बुहारा का है। जहाँ दतिया के ग्राम बुहारा में शासकीय जमीन छोड़कर खाते की जमीन में गौशला बनाई जा रही है। आपको बता दें कि माना ( मखन )पत्नी दयाराम अहिरवार की खाते की जमीन का सर्वे नंबर 678 भूमि मौजा ग्राम बोहरा तहसील दतिया में स्थित है। जिसकी भूमि स्वामी माना (मखन )अहिरवार खुद है। यह कार्य पंचायत सचिव ईश्वरनाथ दांगी के द्वारा किया जा रहा है। जब यह बात जमीन के मालिक को पता चली तो वह आपत्ति लेकर वहां पहुंचा और उसने जीसीबी को रुकवाने को कहा गया और पंचायत सचिव ईश्वरनाथ दांगी से विनती की कि यह मेरी जमीन पर गौशाला क्यों बनवा रहे हैं। तभी ईश्वरनाथ दांगी ने जमीन मालिक माना (मखन )अहिरवार को हड़काते हुए भाग दिया। इसी बात को लेकर पीड़ित कृषक महिला ने दतिया कलेक्टर संजय कुमार की शरण में पहुंचे और न्याय की गुहार लगाई है। फरियादी ने कहा है कि मेरी जमीन को छोड़कर आप शासकीय भूमि पर गौशाला बनाए। जिसमें मुझे कोई आपत्ति नहीं है। आपको बता दें कि ग्राम बुहारा पंचायत मैं गौशाला का कार्य निकला हुआ है, लेकिन यह कार्य मनरेगा के द्वारा किया जाना चाहिए लेकिन पंचायत सचिव द्वारा यह कार्य को जेसीबी से किया जा रहा है। ग्राम पंचायत के मजदूर कार्य के लिए परेशान है, ग्राम पंचायत सचिव ईश्वर नाथ दांगी द्वारा यह कार्य जेसीबी से करवाया जाकर मजदूरों का हक मार रहा है।