फंगल इन्फेक्शन ने लिया नया रूप , सामने आया cream fungus का पहला मामला

नईदिल्ली.Desk/ @www.rubarunews.com- कोरोना संक्रमण लगातार नई नई मुश्किलें देशवासियों के सामने ला रहा है। कोरोना के साथ पहले ब्लैक फंगस , व्हाइट फंगस व येलो फंगस के मामले सामने आए थे पर अब मरीजों में नए फंगस की पुष्टि हई है, मध्यप्रदेश के जबलपुर में कोरोना मरीजों में क्रीम फंगस का पहला केस सामने आया है। कोरोना पीड़ित मरीज का इलाज नेताजी सुभाष चंद्र बोस मेडिकल कॉलेज के ईएनटी विभाग में चल रहा था वहीं जांच के बाद मरीज में मरीज में ब्लैक फंगस के साथ नया क्रीम फंगस पाया गया । डॉक्टर्स के माने तो कोरोना में एंटीबायोटिक दवाओं का अत्यधिक उपयोग शरीर के अंदर पेट में पाए जाने वाले सहजीवी बैक्टीरिया को खत्म कर रहा है और इम्युनिटी कमजोर होने के कारण शरीर मे फंगल इन्फेक्शन को बड़ा रहा है।

 

जाने क्यों बढ़ रहे है फंगल इन्फेक्शन के मामले
कोरोना के कारण वाद रहे फंगल इन्फेक्शन के बढ़ने के कई कारण होसकते है पर मूलतः यह गम्भीर मरीजों को होरहा है जिन्हें या तो कोरोना हो चुका है या कोरोना संक्रमित के दौरान होरहा है । डाक्टर्स द्वारा बताया गया कि अस्पताल मेब मरीजो को लगातार नली व कई तरह के उपकरण लगे होते है जिनकी वजह से सफाई न होने से फंगल पनपने लगती है जो शरीर के अलग अलग अंगों पर असर डालने लगती है। और फंगल के दूसरा अहम कारण अधिक दवाइयां स्टेरॉइड और शरीर मे इम्युनिटी की कमी के कारण फंगल इन्फेक्शन के नए फॉर्म सामने आरहे है।

 

क्या होसकते है लक्षण व उपाय ~
गंदगी व बेक्टेरिया से फैलने वाले इस इन्फेक्शन शरीर के अलग अलग अंगों के अनुसार दिखाई देते है, ज्यादार चेहरे , नाक ,कान, दांत , व त्वचा पर इसका असर पड़ता है। इन सभी इन्फेक्शन से बचाव के लिए सभी मरीजो के आस पास की जगह व लोगो मे साफ-सफाई का ध्यान रखना चहिये उपयोग में आने वाले मास्क ,नली और इलाज के उपकरण में हाइजिन का ध्यान रखना चहिये ।
सभी लोगो व कोरोना मरीजों में इम्युनिटी स्ट्रांग रखकर व अच्छे खानपान और स्वस्थ दिनचर्या से ही इन फंगल इन्फेक्शन से बचा जा सकता है