आगामी 31 मई तक कोरोना संक्रमण को समाप्त करें

भोपाल.Desk/ @www.rubarunews.com>>मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि प्रदेश में कोरोना संक्रमण तेजी से कम हो रहा है। अधिकांश जिलों में साप्ताहिक पॉजिटिविटी दर 10% से कम रह गई है तथा नए प्रकरण भी लगातार कम होते जा रहे हैं, वहीं बड़ी संख्या में मरीज स्वस्थ हो रहे हैं। अब कोरोना को समाप्त करने के लिए ‘एरिया स्पेसिफिक’ रणनीति बनाई जाए तथा आगामी 31 मई तक प्रदेश में कोरोना संक्रमण को समाप्त करने के पूरे प्रयास किए जाएँ, जिससे जन-जीवन को धीरे-धीरे सामान्य बनाया जा सके।

मुख्यमंत्री श्री चौहान आज निवास से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से प्रदेश में कोरोना की स्थिति एवं व्यवस्थाओं की समीक्षा कर रहे थे। वी.सी. में मंत्रीगण, प्रभारी अधिकारीगण तथा सभी संबंधित उपस्थित थे।

 

5065 नए प्रकरण

प्रदेश में कोरोना के 5065 नए प्रकरण आए हैं, पिछले 24 घंटों में 10337 मरीज स्वस्थ हुए हैं तथा एक्टिव प्रकरणों की संख्या 77 हजार 607 है। प्रदेश की कोरोना ग्रोथ रेट 0.9%, सात दिन की पॉजिटिविटी 10% तथा आज की पॉजिटिविटी 7% है।

 

3 जिलों में 200 से अधिक नए अधिक प्रकरण

प्रदेश के 3 जिलों में 200 से अधिक नए प्रकरण तथा 9 जिलों में 100 से अधिक नए प्रकरण आए हैं। इंदौर में 1153, भोपाल में 653, जबलपुर में 324, सागर में 198, रीवा में 175, रतलाम में 160, उज्जैन में 151, सिंगरौली में 115 तथा ग्वालियर जिले में 105 नए प्रकरण आए हैं।

 

32 जिलों में 10% से कम पॉजिटिविटी

प्रदेश के 9 जिलों में 5% से कम साप्ताहिक पॉजिटिविटी है, वहीं 32 जिलों में 10% से कम साप्ताहिक पॉजिटिविटी है। गुना, छिंदवाड़ा, अशोकनगर, बड़वानी, भिंड, बुरहानपुर, झाबुआ, अलीराजपुर, खंडवा में 5% से कम साप्ताहिक पॉजिटिविटी है तथा इन जिलों सहित ग्वालियर, होशंगाबाद, मंदसौर, धार, कटनी, सतना, बालाघाट, रायसेन, शाजापुर, नरसिंहपुर, राजगढ़, देवास, विदिशा, सिवनी, मंडला, आगर-मालवा, छतरपुर, मुरैना, श्योपुर, दतिया, निवाड़ी, टीकमगढ़, तथा हरदा में 10 प्रतिशत से कम साप्ताहिक पॉजिटिविटी है।

 

पंचायत अनुसार योजना बनाएँ

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने सागर जिले की समीक्षा के दौरान निर्देश दिए कि ग्रामीण क्षेत्रों में संक्रमण रोकने व समाप्त करने के लिए पंचायत अनुसार योजना बनाएँ। मंत्री श्री गोपाल भार्गव ने बताया कि सागर जिले में कस्बों में कोविड केयर सेंटर प्रारंभ होने के अच्छे परिणाम सामने आए हैं। मुख्यमंत्री ने निर्देश दिए कि बुंदेलखण्ड मेडिकल कॉलेज की व्यवस्थाएँ चुस्त-दुरूस्त की जाएँ।

 

21 हजार 495 मरीजों का नि:शुल्क इलाज

प्रदेश में कोविड के 21 हजार 495 मरीजों का नि:शुल्क इलाज किया जा रहा है। इनमें से 13 हजार 785 का शासकीय अस्पतालों में, 2307 का अनुबंधित अस्पतालों में तथा 5403 मरीजों का मुख्यमंत्री कोविड उपचार योजना के अंतर्गत सम्बद्ध निजी अस्पतालों में इलाज चल रहा है। मुख्यमंत्री कोविड उपचार योजना में मरीजों के इलाज पर शासन द्वारा आज की‍स्थिति में 6 करोड़ 87 लाख 49 हजार 952 रूपए व्यय हुआ।

 

21 मई को श्री श्री रविशंकर एवं स्वामी रामदेव मार्गदर्शन देंगे

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रदेश में ‘रोग से निरोग’ कार्यक्रम चलाया जा रहा है। इसी के अंतर्गत आगामी 21 मई को श्री श्री रविशंकर एवं स्वामी रामदेव होम आइसोलेशन, कोविड केयर सेंटर्स आदि में रह रहे कोरोना मरीजों को वर्चुअल माध्यम से संबोधित करेंगे।

 

ग्रामीण क्षेत्रों में 6.3% तथा नगरीय क्षेत्रों में 8.9% पॉजिटिविटी

प्रदेश में किल कोरोना अभियान के अंतर्गत किए जा रहे गहन सर्वे में ग्रामीण क्षेत्रों में 6.3% तथा नगरीय क्षेत्रों में 8.9% पॉजिटिविटी पाई गई है। ग्रामीण क्षेत्रों में अभी तक 4 करोड़ 66 लाख 75 हजार 273 व्यक्तियों (74% जनसंख्या) का घर-घर सर्वेक्षण किया जा चुका है। इनमें से 3 लाख 61 हजार 938 व्यक्तियों का स्वास्थ्य परीक्षण किया गया तथा 3 लाख 8 हजार 403 व्यक्तियों को नि:शुल्क मेडिकल किट्स वितरित किए गए। इनमें से 6 हजार 197 व्यक्तियों को कोविड केयर सेंटर्स में भिजवाया गया वहीं 52 हजार 808 को फीवर क्लीनिक रैफर किया गया। इनमें से 3,348 व्यक्ति पॉजिटिव पाए गए। नगरीय क्षेत्रों में कोरोना सहायता केन्द्रों पर 1 लाख 31 हजार 206 व्यक्तियों का स्वास्थ्य परीक्षण किया गया, जिनमें से 1 लाख 465 व्यक्तियों को नि:शुल्क मेडिकल वितरित किए गए। 24 हजार 240 व्यक्तियों को फीवर क्लीनिक भिजवाया गया। इनमें कुल 2,154 व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव पाए गए।

 

उपार्जन टीम को बधाई दी

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने प्रदेश में उपार्जन कार्य की सफलता पर प्रभारी मंत्री सहित पूरी टीम को बधाई दी है। प्रदेश में जिन क्षेत्रों में किसान अभी अपनी उपज के समर्थन मूल्य पर नहीं बेच पाये हैं, वहाँ उपार्जन कार्य जारी रहेगा।