सशक्त महिलाओं ने दिया बेटियों को शिक्षा एवं स्वावलंबन का सन्देश

बून्दी.KrishnakantRathore/ @www.rubarunews.com- समग्र शिक्षा विभाग के तत्वावधान में अन्तर्राष्ट्रीय बालिका दिवस पर बालिकाओें के सशक्तिकरण के लिये जिला स्तरीय समारोह का आयोजन जिला प्रमुख श्रीमती चन्द्रावती कॅवर के मुख्य आतिथ्य एवं जिला कलक्टर रेणु जयपाल की अध्यक्षता में राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय बून्दी के सभागार में आयोजित किया गया। नगर परिषद सभापति श्रीमती मधु नुवाल तथा पूर्व वित्त राज्य मंत्री श्री हरिमोहन शर्मा विशिष्ट अतिथि थे।
जिला प्रमुख श्रीमती चन्द्रावती कॅवर ने गार्गी, मैत्रेयी जैसी विदुषियांे तथा झांसी की रानी लक्ष्मीबाई जैसी वीरागंनाओं का दृष्टांत देते हुये सभी बालिकाओं को जीवन में सफलता प्राप्त करने की श्ुभकामनाएं दी।
अध्यक्षीय उद्बोधन में जिला कलक्टर ने प्रत्येक बालिका को अपने पैरों पर खड़े होकर अपने परिवार एवं समाज के उत्थान के लिये कृत संकल्प होकर जीवन में सघर्ष के साथ आगे बढ़ने का आह्वान किया।
उन्होंने कहा कि बालिकाओं के जज्बे को देखकर देश में एनडीए में कमीशन के लिये भी पहली बार अवसर प्रदान किया गया है। इस प्रकार जीवन के अनेक क्षेत्रों के साथ देश की रक्षा के लिये भी आधी-आबादी पर विश्वास व्यक्त किया गया है। यह हमारी सफलता है।
पूर्व मंत्री हरिमोहन शर्मा ने मंच से संबोधित करते हुये बालिकाओं के सर्वागीण विकास के लिये अनेक कुरीतियों से लड़ते हुये शिक्षा के माध्यम से आगे बढ़ते हुए महिलाओं ने समाज में योग्यता के आधार पर जो अधिकार और सम्मान पाया है, वो आज इस मंच पर दिखाई दे रहा है।
नगर परिषद सभापति श्रीमती मधु नुवाल ने भी महिलाओं की शिक्षा और स्वावलंबन पर जोर दिया।
महिलाओं के विधिक अधिकारों के क्षे़त्र में कार्यरत ”मुस्कान“ वेलफेयर सोसाईटी की अध्यक्ष डॉ नीतू नुवाल मुख्य वक्ता रही।
अतिथियों का स्वागत मुख्य जिला शिक्षा अधिकारी एवं पदेन जिला परियोजना समन्वयक तेजकंवर एवं अति0 जिला परियोजना समन्वयक, समग्र शिक्षा सुरेश चन्द्र वैष्णव द्वारा किया गया।
इस अवसर पर प्रत्येक ब्लॉक से विभिन्न क्षेत्रों में उत्कृष्ठ कार्य करने वाली ब्लॉक स्तर से चयनित मेधावी, खेल स्पर्धा, सांस्कृतिक एवं सामाजिक सरोकारों में श्रेष्ठ कार्य करने वाली 20 बालिकाओं को सम्मानित किया एवं जिला स्तरीय किशोरी मेले श्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाली बालिकाओं को पुरस्कृत किया। उनके द्वारा प्रदर्शित मॉडलस की प्रर्दशनी आयोजित की गई। उपस्थित सभी बालिकाओं को विभाग की ओर से टी-शर्ट भेंट की गई। शिक्षण कार्य में नवाचार करने एवं बालिका शिक्षा के क्षेत्र में विशिष्ट कार्य करने वाले 20 शिक्षक-शिक्षिकाओं को प्रशस्ति पत्र प्रदान किये।
इस अवसर पर स्लोगन, निबंध, क्विज एवं पोस्टर प्रतियोगितओं का आयोजन भी किया गया तथा बालिकाओं को पुरस्कृत किया।
समारोह में महिला अधिकारिता विभाग से एमएल शेखर, समग्र शिक्षा के सहायक परियोजना समन्वयक ऋषिराज शर्मा, कार्यक्रम अधिकारी राजेन्द्र भारद्वाज एवं हनुमान राठौर भी मौजूद रहे। कार्यक्रम का संचालन नीता गहलोत ने किया।
———–