डा. नम्रता आनंद को मिला इंस्पायरिंग वूमेन अवार्ड

नयी दिल्ली.Desk/ @www.rubarunews.com- राजकीय-राष्ट्रीय सम्मान से अंलकृत समाजसेविका डा. नम्रता आनंद को इंस्पायरिंग वूमेन अवार्ड से सम्मानित किया गया।
पिंक एंड ब्लू – सिम्बियोटिक लिविंग, एनजीओ, चैंबर ऑफ प्रोफेशनल्स की एक पहल ने कॉन्स्टिट्यूशन क्लब ऑफ इंडिया, दिल्ली में “तीसरा वार्षिक पॉश कॉन्क्लेव और पुरस्कार समारोह” आयोजित किया। इस अवसर पर विभिन्न क्षेत्रों में उल्लेखनीय भूमिका निभाने वाली 20 महिलाओं को इंस्पायरिंग वूमेन अवार्ड से सम्मानित किया गया। सामाजिक क्षेत्र में उल्लेखनीय योगदान देने के लिये डा. नम्रता आनंद को इंस्पायरिंग वूमेन अवार्ड से सम्मानित किया गया। डा. नम्रता आनंद को यह अवार्ड राजीव रंजन प्रसाद, (राष्ट्रीय सचिव जदयू) और सुश्री शाजिया इल्मी (भाजपा की राष्ट्रीय प्रवक्ता) ने दिया। डा. नम्रता आनंद ने इंस्पायरिंग वूमेन अवार्ड सम्मान दिये जाने पर खुशी जाहिर की और इसके लिये पिंक एंड ब्लू – सिम्बियोटिक लिविंग, एनजीओ, के अध्यक्ष अवनीश श्रीवास्तव का शुक्रिया अदा किया है। उन्होंने कहा कि इंस्पायरिंग वूमेन अवार्ड मिलना मेरे लिये लिये गौरव की बात है।
उन्होंने कहा,यौन उत्पीड़न निवारण अधिनियम (पॉश) महिलाओं को सशक्त बनाने का एक अवसर हैi और इस कानून को हर कार्यस्थल पर लागू किया जाना चाहिए। पिंक एंड ब्लू की प्रतिबद्धता और पहल सराहनीय है। हमारे समाज में महिला सशक्तिकरण की बहुत आवश्यकता है। हमारे समाज में महिलाओं का जीवन पुरुषों द्वारा तय किया गया है और पुरुषों ने महिलाओं की स्वतंत्रता को प्रतिबंधित किया है। जब हम चुनने की स्वतंत्रता का अधिकार नहीं मिलेगा तब तक महिलाओं को सशक्त बनाया जा सकता है। महिलाओं को उचित प्रशिक्षण देकर और पॉश को लागू करके इस यौन उत्पीड़न की घटनाओं को रोका जा सकता है।
गौरतलब है कि डा. नम्रता आनंद सामाजिक संगठन दीदीजी फाउंडेशन की संस्थापिका और जीकेसी बिहार की प्रदेश अध्यक्ष हैं। डा. नम्रता आनंद शिक्षा- महिला सक्तीकरण और पर्यावरण संरक्षण में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रही है।डा. नम्रता आनंद को केन्द्रीय चयन समिति ने वर्ष 2004 में राष्ट्रीय विकास और सामाजिक सेवा में किये गये उत्कृष्ठ कार्य के लिये राष्ट्रीय यूथ अवार्ड सम्मान से सम्मानित किया गया।वर्ष 2008 में डा. नम्रता आनंद ने दीदीजी फाउंडेशन की नीवं रखी जिसके बैनर तले उन्होंने जल जीवन हरियाली, बेटी पढ़ाओं बेटी बचाओ, पर्यावरण, स्वच्छता, तंबाकू विरोधी अभियान, साक्षरता, रक्तदान, पल्स पोलिया प्रतिरक्षण ,कोरोना जागरूकता, महिला सशक्तीकरण , विकलांग लोगों के पुर्नवास समेत कई सामाजिक कार्य किये जिसके लिये उन्हें राष्ट्रीय स्तर पर ख्याति मिली। वर्ष 2019 में डा. नम्रता आनंद को माननीय मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बिहार की सर्वश्रेष्ठ 20 शिक्षकों में सम्मानित किया।डा. नम्रता आनंद पर्यावरण संरक्षण की मुहिम से भी जुड़ी हुयी है। सामाजिक संगठन रोटरी क्लब में भी डा: नम्रता आनंद सक्रिय भूमिका निभाती रही हैं।वर्ष 2021 में डा. नम्रता आनंद ने कुरथौल के फुलझड़ी गार्डेन में संस्कारशाला की स्थापना की। संस्कारशाला के माध्यम से गरीब और स्लम एरिया के बच्चों का नि.शुल्क शिक्षा, संगीत, सिलाई-बुनाई और डांस का प्रशिक्षण दिया जाता है।पर्यावरण लेडी आफ बिहार के रूप में चर्चित हो रही डा. नम्रता आनंद बक्सवाहा के जंगल को बचाने की मुहिम में भी जुड़ी हुयी है।