आंगनबाडी कार्यकर्ता, सहायिका, आशा कार्यकर्ता, बालिका/बालको को सहकारिता मंत्री ने बताए टिप्स

भिण्ड.ShashikantGoyal/ @www.rubarunews.com>> सहकारिता एवं लोक सेवा प्रबंधन मंत्री डॉ अरविंद सिंह भदौरिया की अध्यक्षता में अटेर क्षेत्र में बाल संवाद कार्यक्रम का आयोजन वर्चुअल माध्यम से किया गया जिसमें सहकारिता मंत्री डॉ भदौरिया ने बच्चों से चर्चा कर दृढ संकल्प के साथ निर्भीक होकर आगे बढने का हौसला दिया। बाल संवाद वर्चुअल कार्यक्रम में एसडीएम भिण्ड-अटेर उदयसिंह सिकरवार, महिला एवं बाल विकास अटेर क्षेत्र के सीडीपीओ, आंगनबाडी कार्यकर्ता, सहायिका, आशा कार्यकर्ता, बालिका/बालक, स्वास्थ्य विभाग का अमला सहित अन्य अधिकारी एवं सदस्यगण उपस्थित थे।

 

सहकारिता एवं लोक सेवा प्रबंधन मंत्री डॉ अरविंद सिंह भदौरिया ने कहा कि कोरोना महामारी का संकट सिर्फ अपने भिण्ड जिले में ही नहीं बल्कि प्रदेश, देश एवं पूरी दुनिया पर संकट बना हुआ है लेकिन ऐसे मुश्किल दौर में हमारे जिले की स्वास्थ्य विभाग की टीम, महिला बाल विकास, आंगनबाडी कार्यकर्ता, आशा कार्यकर्ता की बहनों ने बहुत अच्छा काम किया है अपना घर बार छोडकर सेवा भाव से कार्य कर राज्य सरकार  एवं जिला प्रशासन का सहयोग दे रहे है मैं इन सभी को धन्यवाद देता हूं। सहकारिता मंत्री डॉ भदौरिया ने आग्रह किया कि सभी बहनें आंगनबाडी केन्द्र को बच्चों के स्वरूप बनायें, बच्चे भगवान का स्वरूप होते हैं बच्चों को प्रेम पूर्वक भाव से समझाएं एवं बच्चों को खेलकूद से जोडें। सहकारिता मंत्री ने कहा कि आशा एवं आंगनबाडी कार्यकर्ता अपना कार्य सफलतापूर्वक कर रहीं हैं लोगों से संवाद, बात कर सोशल डिस्टेंसिंग, मास्क लगाने एवं कोरोना गाइडलाइन का पालन करने के लिए प्रेरित कर रही हैं जिले की बहनों से मेरा अनुरोध है कि लोगों में वैक्सीनेशन कराने की चेतना फैलायें लोगों को जागरूक करें। लोगों को बतायें कि वैक्सीन साइंटिफिक रूप से बहुत अच्छी और सफल है, जिन लोगों को वैक्सीन लगी है वे सुरक्षित हैं, जिन लोगों ने वैक्सीनेशन नहीं कराया वेे सभी लोग वैक्सीन लगवायें। किल कोरोना-4 का कार्य 24 मई से शुरू किया जा चुका है आप सब गांव-गांव में जाकर लोगों का टेस्ट करें, दवा देने का कार्य करें साथ ही लोगों को वैक्सीनेशन के लिए जागरूक करने का प्रयास करें, उन्होंने कहा कि प्रत्येक भवन स्तम्भ पर खडा होता है और उस स्तम्भ की सबसे मजबूत नीव हमारी बहने हैं।

 

सहकारिता एवं लोक सेवा प्रबंधन मंत्री डॉ अरविंद सिंह भदौरिया ने अटेर क्षेत्र के बालक/बालिकाओं से चर्चा कर कहा कि आप जिस दिशा में जायेंगे वही अच्छा है, आपकी मंजिल कहां है आपको जाना कहां है आप ही तय करिये आप आगे बढते जायेंगे, सकारात्मक सोच से आगे बढिये अपना लक्ष्य तय करिये जिनका लक्ष्य तय नहीें है वह कुछ नहीं कर पाते हैं। बच्चे कोमल मन के होते हैं अपने माता-पिता से सीखते हैं तो उनको अच्छे आचरण दीजिये कुरीतियों से दूर रखिए। उन्होंने बच्चों से कहा कि आत्मविश्वास से अपना टारगेट तय करिये समाज की कुरीतियों से लडकर उन्हें पार करके संघर्ष करते-करते आगे बढिये। कोरोना का मुद्दा है जीत का और मुझे पूरा विश्वास है आप ये लडाई जरूर जीतेंगे, जो दृढ इच्छा शक्ति और आत्म विश्वास से खडे हैं वह जीते भी हैं तो इसके साथ खडे रहिये हम इस लडाई को सिर्फ अस्पताल और इलाज से नहीं जीत सकते। कोरोना की गाइडलाइन का पालन करते हुए सब एक साथ मिलकर इस लडाई को जीतने में सहयोग करेंगे तो हम निश्चित जीत सकेंगे।

 

सहकारिता मंत्री डॉ भदौरिया ने कहा कि प्रदेश सरकार और जिला प्रशासन आपके साथ खडा है वैंटीलेटर, ऑक्सीजन की व्यवस्था कर ली गई है, तीसरी लहर से निपटने के लिए तैयार हैं। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह द्वारा सात मंत्रियों की कमेटी बनाई है। यह टीम सभी बच्चों की विशेष चिंता करते हुए आपके स्वास्थ्य एवं पढाई पर विचार कर रही है। उन्होंने कहा कि संक्रमण की चैन को तोडने का मूलमंत्र है एक दूसरे के साथ मिलकर चलना, गाइडलाइन का पालन करना, वैक्सीनेशन कराना, दृढ संकल्प से डटे रहना, सभी का सहयोग करते हुए हम इस महामारी से लड सकेंगे।