नॉन अटेन्डेट शिकायतों को नही देखने पर होगी कार्यवाही-कलेक्टर

श्योपुर.Desk/ @www.rubarunews.com>> कलेक्टर  राकेश कुमार श्रीवास्तव ने कहा है कि सीएम हेल्पलाइन के अंतर्गत विभिन्न विभागो के अंतर्गत लेबल 01 से लेकर 04 तक शिकायते लंबित दिखाई दे रही है। जिसमें नॉन अटेन्डेट शिकायतों को नही देखने वाले अधिकारियों पर कार्यवाही की जावेगी। साथ ही अपने विभाग की हेल्पलाइन में प्राप्त आवेदन नही खोलने वाले अधिकारियों को नोटिस दिये जावेगे। इसलिए सभी विभागो के अधिकारी अपने विभाग से संबंधित सीएम हेल्पलाइन में प्राप्त होने वाली सभी शिकायतों का तीन दिवस में निराकरण करें। साथ ही नॉन अटेन्डेट शिकायतो को खोलकर उसमें जबाव फीड करें। वे आज कलेक्टर कार्यालय श्योपुर के सभागार में सीएम हेल्पलाइन के अंतर्गत लेबल 01 से लेकर 04 तक की शिकायतों की विभागवार समीक्षा में विभागीय अधिकारियों को निर्देश दे रहे थे।
बैठक सीईओ जिला पंचायत  राजेश शुक्ल, डिप्टी कलेक्टर  विजेन्द्र सिंह यादव, एसीईओ जिला पंचायत  एमके जैन, उपसंचालक कृषि  पी गुजरे, सीएमएचओ डॉ बीएल यादव, डीपीओ महिला एवं बाल विकास  ओपी पाण्डेय, महिला सशक्तिकरण  रिशु सुमन, जिला आबकारी अधिकारी  राकेश शर्मा, उपसंचालक पशु चिकित्सा डॉ राजेश सिहं सिकरवार, सीईओ जनपद  सुधीर खाडेकर, मेनेजर लोक सेवा प्रबंधन  योगेश पुरोहित, सहायक संचालक मत्स्य पालन  बीपी झसिया, ओबीसी कु. निकिता तामरे, तहसीलदार  राघवेन्द्र कुशवाह, सीएमओ नपा सुश्री मिनी अग्रवाल, ओएस  दिलीप बंसल एवं अन्य विभागीय अधिकारी उपस्थित थे।
कलेक्टर  राकेश कुमार श्रीवास्तव ने कहा कि सीएम हेल्पलाइन के अतंर्गत कुछ दिनो से विभिन्न विभागो के अधिकारियों ने अच्छा काम किया है। साथ ही सीएम हेल्पलाइन में साढे 05 हजार से अधिक शिकायतों का डिस्पोजल किया गया है। जिससे जिले की स्थिति में सुधार हुआ है। साथ ही निराकरण की स्थिति करीबन 80 प्रतिशत तक पहुंच गई है। उन्होने कहा कि कुछ विभागो के अंतर्गत अभी भी सीएम हेल्पलाइन लेबल 01 से लेकर के 04 तक की लंबित है। उनका संतुष्टिपूर्वक निराकरण किया जावे। जिससे जिला 24वे स्थान से टॉप 10 की श्रेणी में आकर प्रदेश के जिलो में अपनी पहचान स्थापित करने में सहायक बनेगा। इस कार्य में विभागीय अधिकारी अपने ऑपरेटर एवं अन्य अधीनस्थ कर्मचारी की सेवाएं लेकर शत प्रतिशत शिकायतो का निराकरण कर सकते है। यह कार्य आगामी तीन दिवस में होना चाहिए।  सीईओ जिला पंचायत श्री राजेश शुक्ल ने विभिन्न विभागो के अंतर्गत सीएम हेल्पलाइन में दर्ज शिकायतों को खुलवाकर देखा। साथ ही विभागीय अधिकारियों द्वारा फीड किये गये उत्तर की हकीकत जानी। उन्होने कहा कि जिन-जिन विभागो में शिकायतें अभी भी पेंडिग है। उनका निराकरण समय सीमा में किया जावे। उन्होने विभागवार सीएम हेल्पलाइन के अंतर्गत निराकृत की गई शिकायतों को देखा। साथ ही लंबित शिकायतों में सतुष्टिपूर्वक जबाव फीड करने के निर्देश विभागीय अधिकारियों को दिये।
इसी प्रकार डिप्टी कलेक्टर  विजेन्द्र सिंह यादव ने बैठक में कहा कि विभिन्न विभागो के अंतर्गत अधिकांश अधिकारी सीएम हेल्पलाइन की शिकायतों को अटेन्ड नही कर रहे है। इसलिए ऐसे अधिकारी शिकायतों को अटेन्ड करे। साथ ही समय सीमा से बाहर होने वाली शिकायतों पर नजर रखे और उनमें अपना अभिमत फीड करें।