कराहल क्षेत्र की पेयजल व्यवस्था को प्रभावी बनाया जावे-कलेक्टर

श्योपुर।Desk/ @www.rubarunews.com>>कलेक्टर  राकेश कुमार श्रीवास्तव की अध्यक्षता में आदिवासी विकासखण्ड मुख्यालय कराहल की पेयजल व्यवस्थाओं की समीक्षा बैठक आज जनपद कार्यालय कराहल में आयोजित की गई। इस बैठक में निर्णय लिया गया कि आगमी ग्रीष्म काल के दौरान क्षेत्र की पेजयल व्यवस्था को प्रभावी बनाने के प्रयास किये जावे।
कलेक्टर  राकेश कुमार श्रीवास्तव कहा कि आगमी ग्रीष्म काल के दौरान आदिवासी क्षेत्र में पेयजल सुविधा की दृष्टि से नलजल योजना एवं हैण्डपम्पों के संधारण का कार्य निरंतर जारी रखा जावे। उन्होने कहा कि हाईड्रोफ्रेक्चरिंग का कार्य नियम समय में पूरा कर ले। जिससे पेयजल का स्तर बनाये रखने में सहयोग मिल पाये। इसी प्रकार एक कन्ट्रोल रूम बनाया जाये। इसी प्रकार तलाबों के गहरीकरण एवं वाटर रिचार्ज की गतिविधिया गंभीरता से की जाये। जिन गांवो में पेयजल की सुविधा कम है। उनमें नये बोर खनन कर पेयजल जल व्यवस्था को प्रभावी बनाया जावे।
बैठक में कलेक्टर ने सीईओ जिला पंचायत को निर्देश दिये कि 15वे वित्त से पेजयल के लिए टंकियो की व्यवस्था की जाये। जिससे टकी के माध्यम से पीने का पानी उपलब्ध करोन में मदद मिलेगी। इसी प्रकार जनपद सीईओ को निर्देश दिये कि समस्त ग्राम सचिवों के साथ प्रत्येक ग्राम का वाटर लेवल एवं वर्तमान पेयजल व्यवस्था की सूची तैयार कर आगामी समय के लिये सटीक योजना तैयार की जावे। साथ ही इन्द्रा कॉलोनी कराहल, पनवाडा तिराहा, बडी कॉलोनी एवं राजस्व कॉलोनी में बोर खनन पेयजल के लिए शीघ्र कराये जावे।
कार्यपालन यंत्री पीएचई  संतोष श्रीवास्तव ने बैठक में बताया कि ग्रामवार प्रत्येक ग्राम की समस्या एवं व्यवस्था पर विस्तृत कार्य योजना बना ली गई है। उन्होने क्षेत्र के हैण्डपम्प एवं नलजल योजनाओं की भी जानकारी दी।

बैठक सीईओ जिला पंचायत  राजेश शुक्ल, कार्यपालन यंत्री पीएचई  संतोष श्रीवास्तव, सहायक यंत्री  आरपी वर्मा, जिला सलाहकार श्रीमति आराधना पाराशर, जनपद सीईओ  एसएस भटनागर, तहसीलदार  नवल किशोर जाटव उपस्थित थे।