बुंदेलखंड निर्माण मोर्चा के 30 जनवरी के आयोजन को सफल बनाएं- भानू सहाय

दतिया @rubarunews.com>>>>>>>> प्रधानमंत्री वादा निभाओ, बुन्देलखंड को राज्य बनाओ।  (जितै श्री राम राजा के रूप में विराजे है बा) *ओरछा खौ राजधानी बनाओ* के नारे के साथ हर महीने की 30 तारीख को प्रधानमंत्री को उनका वादा याद दिलवाने के लिए दिए जाने वाले ज्ञापन के क्रम में *इस माह 30 जनवरी को ज्ञापन दतिया में दिया जाएगा*।

बुन्देलखंड निर्माण मोर्चा के योद्धा मोर्चा अध्यक्ष भानू सहाय के नेतृत्व में 30 जनवरी को अपनी अपनी मोटर साईकिलो से झांसी से प्रारम्भ होकर बालाजी होते हुए दतिया में आकर ज्ञापन देंगे। दतिया के कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए दिनांक 18 जनवरी को 12 बजे उन्नाव-बालाजी में तैयारी सभा की।

समर्थन जुटाने वालो में अशोक सक्सेना, रघुराज शर्मा, उत्कर्ष साहू, सत्येंद्र श्रीवास्तव, गिरजा शंकर राय, बलबान यादवपूर्व जिला पंचायत सदस्य, प्रदीप झा, अन्नू मिश्रा, कुँवर बहादुर आदिम, गोलू ठाकुर, प्रदीप झा, कलाम कुरैसी, नरेश वर्मा हनीफ़ खान अनिल कुंमार, सामाजिक कार्यकर्ता रामजीशरण राय सचिव कलचुरी विकास मंच, अविन्द सिंह दाँगी अध्यक्ष दाँगी समाज, महीपाल सिंह गुर्जर, नरेंद्र तिवारी, ज्ञान सिंह यादव, चन्द्रप्रकाश श्रीवास्तव, सागर खरे, राजेश शर्मा, कौशल पाठक महेश उन्नया, प्रमोद शर्मा, अभिराम शर्मा, हर्ष तिवारी, दयाशंकर पाठक, सौरव खरे ज़िला न्यायालय दतिया के अधिवक्ताओ में समाधिया, सिद्धार्थ गौत्तम, अजय श्रीवास्तव, आनंद पटवा, राजेश पस्तौर, रामनरेश तिवारी, अंनवेद श्रीवास्तव सहित दर्जनों अधिवक्ताओ ने बुन्देलखण्ड निर्माण आंदोलन में आहुति दी।

इसी क्रम में चित्रगुप्त मन्दिर गल्ला मंडी परिसर दतिया में कायस्थ समाज के समाज सेवियों में बुन्देली योद्धाओं का माल्यापर्ण कर सम्मानित किया। जिसके उपरांत चित्रांश बंधुओं ने बुंदेलखंड राज्यनिर्माण के लिए अपने विचार व्यक्त करते हुए अपने उदबोधन में उत्तर प्रदेश/मध्यप्रदेश के बुंदेलखंड से राज्यनिर्माण कराने की पुरजोर मांग रखी एवं ओरछा को राजधानी बनाने की अपनी बात कही।

इस अवसर पर कायस्थ समाज के समाज सेवियों में अशोक श्रीवास्तव, सोम खरे, राजदीप श्रीवास्तव, अविन्द सक्सेना, नीरज श्रीवास्तव, श्याम सुंदर, डॉ राकेश खरे, अवदेश सक्सेना, रवि श्रीवास्तव नीरज पवैया, राजेन्द्र सक्सेना, रामेश्वर, प्रमोद श्रीवास्तव आदि बुन्देली योद्धा उपस्थित रहे। कार्यक्रम में बुन्देली गायक जय कारण निर्मोही ने बुंदेलखंड निर्माण के लोकगीत की गायकी से उपस्थित लोगों में राज्य निर्माण के प्रति जोश भरा।