अंतिम पायदान पर खड़े व्यक्ति को लाभ दिलाने के लिए कार्य करे सभी विभाग

बूंदी.KrishnakantRathore/ @www.rubarunews.com- लोक सभा अध्यक्ष ओम बिरला की अध्यक्षता में कलक्ट्रेट परिसर में जिला विकास समन्वय एवं निगरानी समिति (दिशा) की समीक्षा बैठक आयोजित की गई। बैठक में बिरला ने कहा कि अंतिम पायदान पर बैठे पात्र व्यक्ति को योजनाओं का व्यापक लाभ मिले, इसके लिए बेहतर तरीके से योजनाओं को धरातल पर उतारा जाए। कोई भी पात्र व्यक्ति योजनाओं के लाभ से वंचित नहीं रहे। समीक्षा बैठक में लोकसभा अध्यक्ष ने पानी, बिजली, कृषि, स्वास्थ्य, आदि विभागों के विकास कार्य़ों की समीक्षा की। बैठक में लोकसभा अध्यक्ष ने प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना की समीक्षा करते हुए अधिकारियों को निर्देश दिए कि क्षतिग्रस्त सड़कों की मरम्मत का कार्य शीघ्र करवाया जावे। मेजनदी, घोडा पछाड नदी पर उच्च स्तरीय पुल निर्माण के प्रस्ताव बनाया जावे। उन्होंने कहा कि जिन स्थानों रेलवे ओवर ब्रिज की जरूरत है, उनको चिन्हित कर आरओबी के प्रस्ताव तैयार करवाए जावे।

जल जीवन मिशन की गति पर जताया असंतोष
बिरला ने जल जीवन मिशन के तहत जिले में चल रहे विकास कार्यों की विस्तार से समीक्षा की। बिरला ने आमजन को पेयजल उपलब्ध करवाने के लिए चलाए जा रहे अभियान की धीमी गति पर असंतोष व्यक्त किया। बिरला ने कहा कि वर्ष 2024 तक प्रत्येक गांवों में शुद्ध पेयजल मुहैया कराने का लक्ष्य रखा गया है, ऐसे में अधिकारी लगातार कार्यों की मॉनिटरिंग करे ताकि तय समय तक लक्ष्य की प्राप्ति की जा सके। उन्होंने दीनदयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना एवं समेकित विद्युत विकास योजना के तहत हर गांव को विद्युतकृत किया जावे। उन्होंने निर्देश दिए कि बरसात के दौरान जीएसएस में पानी की पहुंच नहीं हो, इसके लिए कार्य किए जावे।

75 तालाबों का हो सौंदर्यीकरण
बिरला ने अमृत सरोवर योजनान्तर्गत बूंदी ज़िले में 75 तालाबों के विशेष कायाकल्प एवं सौंदर्यीकरण के निर्देश दिए। साथ ही जल संरक्षण हेतु ज़िले के अन्य तालाबों को सहेजने व अधिक जल प्रवाह वाले स्रोतों को नए तालाबों के रूप में विकसित करने की संभावना तलाशने को कहा।

पंचायत स्तर पर फलदार पौधों का हो वितरण
उन्होंने कृषि विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि हर पंचायत स्तर पर निशुल्क फलदार पौधे वितरण की कार्य योजना तैयार करें। इसके लिए इच्छुक व्यक्तियों से फलदार पौधों की मांग भी प्राप्त की जावे। इसमें जिले के वातावरण के अनुकूल फलदार पौधों के किस्म की भी पहचान रखी जावे, ताकि काश्तकार को इसके जरिए व्यापक लाभ दिलाया जा सके।

सामूहिक विवाह आयोजनो को मिले प्रोत्साहन
लोक सभा अध्यक्ष ने जिले में चल रहे सामूहिक विवाह आयोजन को प्रोत्साहन देते हुए परिवारों को राष्ट्रीय सामाजिक सहायता कार्यक्रम के तहत अनुदान राशि उपलब्ध कराई जाए। उन्होंने कहा कि किसी भी गांव में कोई भी पात्र व्यक्ति राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा से वंचित नहीं रहे। इस कार्य की भी मॉनिटरिंग की जाए।

स्वास्थ्य सेवाओं में हो सुधार
बिरला ने स्वास्थ्य महकमे के अधिकारियों को ग्रामीण अंचलों में स्वास्थ्य सेवाओं में सुधार के प्रयास करने को कहा। बिरला ने जिले में प्रत्येक सीएचसी व पीएचसी में एबुंलेंस की व्यवस्था सुनिश्चित करने को कहा। उन्होंने कहा कि ग्रामीण क्षेत्र में गंभीर बीमारियों से ग्रसित व्यक्तियों को उपचार सुविधा के लिए शिविर लगाए जाए। बिरला ने अधिकारियों को जिले में गांवों 100 सेंटर चिन्हित करने को कहा, जहां मेडिकल क्षेत्र में कार्य कर रहे युवाओं को विशेषज्ञों द्वारा प्रशिक्षण दिलाया जाएगा।

मेडिकल कॉलेज निर्माण कार्य को दें गति
लोकसभा अध्यक्ष ने मेडीकल कॉलेज के निर्माण कार्य को और अधिक गति देने के निर्देश दिए। उन्होंने जिला कलक्टर को संबंधित अधिकारियों के साथ बैठक कर समय-समय पर कार्य की मॉनिटरिंग करने को कहा।

पशुपालकों के बनेंगे क्रेडिट कार्ड
लोकसभा अध्यक्ष कहा कि जिले में किसान क्रेडिट कार्ड की तरह अब पशुपालकों के लिए भी क्रेडिट कार्ड बनाए जाएंगे। इसके लिए 18 मई से हर पंचायत पर अभियान चलाया जाएगा। पशुपालक इस कार्ड से किसान क्रेडिट कार्ड जैसी सुविधा पा सकेंगे।

ये रहे मौजूद
बैठक में भीलवाड़ा सांसद सुभाष बहेडिय़ा, विधायक चंद्रकांता मेघवाल, जिला प्रमुख चन्द्रावती कंवर, जिला कलक्टर रेणु जयपाल, पुलिस अधीक्षक जय यादव समेत केंद्र व राज्य से जुड़े जुड़े आला अधिकारी मौजूद रहे।