अभयपुरा बांध बनेगा ईको टूरिज्म सेंटर।Abhaypura dam will become eco tourism center

बूंदी.KrishnakantRathore/ @www.rubarunews.com- – अभयपुरा बांध क्षेत्र में पर्यटन गतिविधियां शुरू करने को लेकर जिला कलेक्टर डॉ. रविन्द्र गोस्वामी ने बांध का निरीक्षण किया और की जाने वाली व्यवस्थाओं को लेकर वन विभाग के अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए।

अभयपुरा बांध बनेगा ईको टूरिज्म सेंटर।Abhaypura dam will become eco tourism center

निरीक्षण के दौरान जिला कलेक्टर ने निर्देश दिए कि अभयपुरा बांध को ईको टूरिज्म सेंटर के रूप में विकास किया जाएगा। इसके लिए सभी तैयारियां सुव्यवस्थित तरीके से पूरी की जावे। उन्होंने बिजौलिया घाट पर बेंच लगाने तथा पार्किंग की व्यवस्था करने के निर्देश दिए। इसके बाद यहां स्थित लवकुश वाटिका में पहुंचकर अधिकारियों के साथ पौधारोपण भी किया।

लोक संस्कृति के रंगों से सराबोर होगा पर्यटन पर्व ‘बूंदी महोत्सव । Tourism festival ‘Bundi Festival’ will be drenched with the colors of folk culture

अभयपुरा बांध क्षेत्र के निरीक्षण के दौरान जिला कलेक्टर ने निर्देश दिए कि बूंदी महोत्सव के मद्देनजर इन स्थानों पर देशी विदेशी पर्यटकों का इन स्थानों पर आगमन रहेगा। इसको दृष्टिगत रखते हुए पर्यटन गतिविधियां शीघ्र शुरू करवाई जावे। उन्होंने निर्देश दिए दिए कि यहां पक्षियों को देखने के लिए बर्ड वाचिंग सेंटर स्थापित किया जावे। साथ ही आईलैंड पर पर्यटकों के लिए भी व्यवस्थाओं का रोडमैप तैयार किया जावे।
भीमलत में देखी रॉक पेटिंग
जिला कलेक्टर ने भीमलत स्थित रॉक पेन्ंिटग का अवलोकन किया। उन्होंने पेटिंग के संबंध में अधिकारियों से जानकारी ली और रॉक पेटिंग की संरक्षण को लेकर विशेष ध्यान देने के निर्देश दिए। इसके बाद उन्होंने भीमलत डेम व भीमलत झरने का अवलोकन भी किया। यहां उन्होंने इस स्थल को टूरिज्म के रूप में और अधिक विकसित करने की संभावनाओं पर चर्चा की।
निरीक्षण के दौरान उपवन संरक्षक एवं उपक्षेत्र निदेशक (कोर) रामगढ़ विषधारी टाईगर रिजर्व संजीव शर्मा, उपवन संरक्षक बंदी डॉ. टी.मोहनराज, जल संसाधन विभाग के अधिशाषी अभियंता रामाधार मीना, सहायक अभियंता अरूण कुमार मीना, एसीएफ