जबलपुर में जल्द शुरू कराये जायेंगे मोहल्ला क्लीनिक – प्रभारी मंत्री प्रियव्रत सिंह

भोपाल.Desk/@www.rubarunews.com>> राज्य शासन के ‘आपकी सरकार-आपके द्वार” कार्यक्रम के अंतर्गत नि:शुल्क स्वास्थ्य शिविर के आयोजन का नवाचार जबलपुर में देखने को मिला। विधायक  विनय सक्सेना ने अपने जन्म-दिन पर इस शिविर की जिम्मेदारी ली। शिविर में 14 हजार 670 लोगों का पंजीयन कर चिकित्सा विशेषज्ञों द्वारा स्वास्थ्य परीक्षण किया गया। चिकित्सकीय परामर्श के साथ नि:शुल्क दवाइयाँ भी प्रदाय की गईं। इस मौके पर वरिष्ठ चिकित्सकों को सम्मानित किया गया।

ऊर्जा मंत्री  प्रियव्रत सिंह ने अपने प्रभार के जिला जबलपुर में इस नवाचार का स्वागत किया। उन्होंने घोषणा की कि जबलपुर में जल्द ही मोहल्ला क्लीनिक शुरू किये जायेंगे। उन्होंने कहा कि  नरेन्द्र जैन ने 2 डायलिसिस मशीन भेंट की हैं, जिन्हें आमजन के लिये मनमोहन नगर अस्पताल में स्थापित कराया जायेगा।

प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र में 3-3 संजीवनी क्लीनिक

मध्यप्रदेश विधानसभा अध्यक्ष  नर्मदा प्रसाद प्रजापति ने इस मौके पर राज्य सरकार से आग्रह किया कि प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र में 3-3 संजीवनी क्लीनिक शुरू कराये जायें ताकि गरीब और जरूरतमंद लोगों को अस्पतालों के चक्कर न लगाना पड़ें और उन्हें घर के पास ही नि:शुल्क चिकित्सा सुविधा मिल सके।

जन्म-दिन पर जन-सेवा की नई परम्परा

जनसम्पर्क मंत्री  पी.सी. शर्मा ने विधायक  विनय सक्सेना द्वारा जन्म-दिन पर जन-सेवा की नई परम्परा शुरू किये जाने को समाज के लिये प्रेरणा बताया। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने आम आदमी को हर जगह नि:शुल्क बेहतर चिकित्सा सेवा देने की शुरूआत की है।

स्कूली बच्चों का नियमित नेत्र परीक्षण

राज्यसभा सदस्य  विवेक तन्खा ने विधायक  विनय सक्सेना को जन-सेवा का नया संदेश देने पर बधाई दी। उन्होंने कहा कि नि:शुल्क स्वास्थ्य शिविर के माध्यम से पीड़ित मानवता की सेवा अच्छी पहल है। राज्यसभा सदस्य तन्खा ने स्कूली बच्चों का नियमित नेत्र परीक्षण कराने का आग्रह किया।

कार्यक्रम को मध्यप्रदेश विधानसभा उपाध्यक्ष सुश्री हिना कांवरे, सामान्य प्रशासन मंत्री डॉ. गोविंद सिंह, अनुसूचित-जाति कल्याण मंत्री श्री लखन घनघोरिया, पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री  कमलेश्वर पटेल और विधायक  राजवर्द्धन सिंह दत्तीगांव ने भी संबोधित किया।

इस मौके पर स्व-वित्तीय योजना ब्रोशर का विमोचन किया गया। महाविद्यालयीन छात्राओं को नि:शुल्क ड्रायविंग लायसेंस दिये गये। नेत्र रोगियों को जाँच के पश्चात चश्मे वितरित किये गये।

 

Umesh Saxena

I am the chief editor of rubarunews.com