चंबल नदी में डूबी 50 सवारियों से भरी नाव, 7 के डूबने से मृत्यु, बचाव कार्य जारी

कोटा/राजस्थान Desk/rubarunews.com>>>> राजस्थान में कोटा इटावा के पास खातोली क्षेत्र के गोठड़ा कला गांव में नदी में डूबी 50 यात्रियों से भरी नाव। क्षमता से अधिक नाव भरी होने के कारण यात्रियों के नदी पार करते समय डूबने की हुई घटना , गोठड़ा से चंदा गाँव के बीच में हुआ यह हादसा बताया जा रहा है कि यह सभी 50 यात्री कमलेश्वर महादेव जी के दर्शन करने जा रहे थे।
चम्बल में नाव पलटने से लगभग 07 यात्रियों की मृत्यु औऱ 8 से 10 लोगो के लापता होने की भी खबर आरही है । घटना के पश्चात स्थानिए इलाके के लोगो ने आनन फानन में लोगो की सहायता करने की कोशिश की, औऱ प्रशाषन को सुचित किया जिसका बाद से रेस्क्यू आपरेशन जारही है जिसमे करीबन 15 लोगो को रेस्क्यू भी कर लिया गया है। कोटा कलेक्टर भी घटना स्थल पर मौजूद है।
राजस्थान व मध्यप्रदेश के सीएम ने घटना की जानकारी लेते हुए इसे बतया एक दुःखद घटना और राजस्थान सीएम ने कहा कि प्रभावित लोगों की सहायता कोष से की जाएगी मदद।
प्रशाषन एवं SDRF के एडीजी ने बताया कि SDRF की 3 रेस्क्यू की टीम कर रही है रेस्क्यू एवं नाव के ओवरलोड होने के कारण हुआ हादसा और नाव में 14 बाइक भी लेके जा रहे थे ।
प्रशाषन ने बताया कि नदी के बहाव और मानसून के कारण होरही है परेशानी लेकिन जल्द पूरा करलिया जाएगा रेस्क्यू आपरेशन।
बता दे कि चम्बल या चमरावती नदी भारत में उत्तर तथा उत्तर-मध्य भाग में राजस्थान और मध्यप्रदेश के बीच सीमा बनाते हए यह उत्तर प्रदेश में यमुना में मिल जाती है । करीबन 965 किलोमीटर लंबी इस जीवन दायनी नदी में हर साल कई हादसे होते है, जिसके कारण कई लोग अपनी जान गवानी पड़ती है।