बच्चों की सुरक्षा के लिहाज से बनाएंगे शहर का इंफ्रास्ट्रक्चर

*बच्चों के लिये देश मे भोपाल को सबसे सुरक्षित शहर बनाना है*

 

भोपाल @rubarunews.com>>>>>>>>>> बच्चों की सुरक्षा के मुद्दे पर नगर निगम और बच्चोँ के मध्य बाल सुरक्षा संवाद का आयोजन आज नगर निगम सभागार में किया गया। इस अवसर पर शहर की विभिन्न बस्तियों से आये हुए बच्चों, सामाजिक कार्यकर्ताओं एवं नगर निगम आयुक्त श्री केवीएस चौधरी और यूनिसेफ मप्र की प्रमुख मार्ग्रेट गवाडा विशेष रूप से उपस्थित थी।

आयोजन के आरंभ में यूनिसेफ मप्र की बाल संरक्षण अधिकारी अद्वैता मराठे ने सेफ सिटी पहल के बारे में जानकारी प्रदान की और बाल केंद्रित नियोजन के साथ बाल संरक्षण हेतु किये जा रहे प्रयासों के बारे में भी बताया।

इसके बाद विभिन्न बस्तियों से आये बच्चों ने अपनी बात रखी जिसमे उन्होंने बस्तियों में बाल सहभागी मैपिंग के बारे में बताया और कहा कि मुख्य तौर पर जो मुद्दे निकलकर आये हैं वे हैं- बाल विवाह, बाल श्रम, हिंसा, नशा, लैंगिक हिंसा आदि।

बच्चों ने यिन समस्याओं के समाधान के लिये उनके द्वारा किये गए प्रयासों, सफलताओं और मुश्किलों की भी चर्चा की। उन्होने निगम आयुक्त से माँग की कि सभी बस्तियों में बच्चों के लिये खेल मैदान, पार्क और सुरक्षित स्थान बनाये जाएं। अपनी बात रखने वाले बच्चों में मधु, ललित, नरगिस, तान्या, पल्लवी, मयूर, अतुल, सोनू, सोनिया, आशीष,अविनाश, संदीप, आरती, निधि, विजय, दीक्षाआदि प्रमुख हैं।
बच्चों को संबोधित करते हुए यूनिसेफ की मप्र प्रमुख मार्ग्रेट गवाडा ने बच्चों द्वारा किये गए प्रयासों की सराहना करते हुए उन्हें चैंपियन बताया। उन्होने निगमायुक्त से आग्रह किया कि नगर निगम बाल केंद्रित नियोजन और बजट प्लान को शुरू करे तथा अपने अधिकारी कर्मचारियों का बाल संरक्षण के लिये क्षमता वर्धन करे।

नगर निगम आयुक्त केवीएस चौधरी ने भी बच्चों के योगदान की सराहना करते हुए उनसे शहर के विकास में योगदान करने का आग्रह किया। उन्होंने कहा कि बच्चों की सुरक्षा और उनके साथ उचित व्यवहार हेतु अपने अधिकारियों का संवेदीकरण करेंगे। शहर का इंफ्रास्ट्रक्चर बच्चों की सुरक्षा को ध्यान में रखकर बनाएंगे। आभार प्रदर्शन श्रीमति अर्चना सहाय ने एवं संचालन अमरजीत सिंह और राखी रघुवंशी ने किया।

इस अवसर पर आरम्भ, उदय, मुस्कान, आवाज, ममता, राष्ट्रीय सेवा योजना और निवसीड बचपन प्रतिनिधि सम्मिलित रहे। उक्त जानकारी सत्येंद्र पाण्डेय ने दी।